बिहार के जेलों में बंद कैदी भी कर रहे दुर्गा पूजा का उपवास, कहा-छूटने के बाद अपराध से रहेंगे दूर

कहा- जेल से छूटने के बाद अपराध की दुनिया से रहेंगे दूर, पाप नाश करने के लिए कर रहे पूजा, 25 महिला व 75 पुरुष बंदी मां की आराधना में जुटे : मंडल कारा दरभंगा में दुर्गा पूजा काे लेकर बंदियों के बीच भक्तिमय माहौल बना है। हत्या मामले के सजासिद्ध बंदी अमरेन्द्र राय पुरोहित की भूमिका में हैं। जेल के अंदर बने स्थायी मंदिर में कलश स्थाना की गई है मगर महिला बंदी अपने-अपने वार्ड में पूजा करती हैं। यहां कुल सौ बंदी फलहार कर पूजा कर रहे हैं।

जेल में बंद बंदियों में 25 महिला और 75 पुरूष फलहार कर उपासना में लगे हैं। जेल प्रशासन की ओर से डीएम के निर्देश पर पूजा करने वाले महिलाओं और पुरूष बंदियों को केला, सेब व दूध आदि सामग्री व कपड़े मुहैया कराए गए हैं। जेल अधीक्षक संदीप कुमार ने बताया कि जेल प्रशासन पूरी आस्था के साथ बंदियों की आराधना को पूरा कराने में लगा है। बंदियों की ओर से पुरोहित बने अमरेन्द्र राय ने कहा कि वह सात साल सजा काटने के बाद अब तो निकलने का समय है। यहां से निकलने के बाद सभी बंदियों ने संकल्प लिया कि दूसरे को भी अपराध की दुनिया से दूर रहने और कानून को मानने की सलाह देंगे।

Input: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.