अब मीटर भी कराइए रिचार्ज तभी जलेगी बिजली, बिहार के इस जिले में प्रक्रिया शुरू

स्मार्ट मीटर लगाने की प्रक्रिया तेजी से चल रही है। वर्ष 2021 के अंत तक बड़ा बदलाव दिखेगा। मोबाइल की तरह ही अब स्मार्ट को भी रिचार्ज करना पड़ेगा, फर्क सिर्फ इतना होगा कि रिर्चाज खत्म होने के बाद भी बिजली जलती रहेगी, लेकिन तीन माह के अंदर रिचार्ज नहीं कराने पर बिजली कटौती की कार्रवाई होगी। बताते चलें कि विद्युत प्रमंडल कार्यालय में सीतामढ़ी के डीएम सुनील कुमार यादव ने दीप प्रज्ज्वल्लित कर स्मार्ट मीटर लगाने के कार्य का शुभारंभ किया।


डीएम ने कहा कि विद्युत सेवा को बेहतर बनाने के लिए सरकार दृढ संकल्पित है। उपभोक्ताओं को निर्बाध 24 घंटे बिजली आपूर्ति हो इसके लिए लगातार सुधारात्मक कार्य किए जा रहे हैं। इस मीटर के लगने से उपभोक्ताओं को बिल संबंधित समस्या से छुटकारा मिलेगा। वहीं बिजली की खपत पर नियंत्रण भी होगा।


जिले में यह मीटर नि:शुल्क लगाया जाएगा। शहरी उपभोक्ताओं को इस वर्ष के अंत तक इस प्रोजेक्ट का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा। फिर ग्रामीण क्षेत्रों में भी इस मीटर को लगाया जाएगा। स्मार्ट मीटर लगने के बाद उपभोक्ताओं को निर्बाध बिजली की आपूर्ति के लिए मोबाइल फोन की तरह बैलेंस रिचार्ज रखना होगा।


स्मार्ट मीटर का रिचार्ज खत्म होते ही बिजली नहीं कटेगी। रिचार्ज के लिए उपभोक्ताओं को एक से तीन दिनों का समय दिया जाएगा। रिचार्ज से संबंधित उपभोक्ताओं के निबंधित मोबाइल संख्या व ई-मेल पर विभाग के स्तर से संदेश प्राप्त होता रहेगा। इसके तहत पहले चरण में डुमरा, सीतामढ़ी, बेलसंड, बैरगनिया व पुपरी शहरी क्षेत्र के कुल 46949 उपभोक्ताओं को इसका लाभ मिलेगा। बिहार के सीतामढ़ी में इस समय कई सकारात्मक बदलाव देखने को मिल रहे हैं। इन बदलावों मेें स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाना भी शामिली है। इस अवसर पर डीडीसी तरनजोत ङ्क्षसह, अधीक्षण अभियंता रितेश कुमार व स्वामी शरण प्रसाद, कार्यपालक अभियंता कुंदन कुमार, सुजीत कुमार व हिमांशु कुमार समेत कई अभियंता मौजूद थे।


Input: JNN

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.