बिहार में बिजली संकट, एक्शन में CM नीतीश कुमार, कहा- हम को कम मिल रही बिजली, महंगी खरीद रहे

मुख्यमंत्री ने कहा, पांच दिनों में 90 करोड़ की बिजली खरीदी, बिहार को कम मिल रही बिजली, महंगी खरीद रहे : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि जरूरत के हिसाब से बिहार को बिजली नहीं मिल पा रही है। जिन कंपनियों से बिजली की खरीद होती है, वहां उत्पादन कम होने से ऐसा हो रहा है। इसके चलते समस्या आई है। इस कारण राज्य सरकार अधिक कीमत पर बिजली की खरीद कर लोगों को उपलब्ध करा रही है। स्थिति को सामान्य करने में ऊर्जा विभाग लगा हुआ है।

 

 

मुख्यमंत्री सोमवार को जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम के बाद पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि एनटीपीसी तथा अनेक निजी कंपनियों से बिजली लेते थे। जितनी आपूर्ति का प्रावधान था, उतनी नहीं हो रही है। ज्यादा दाम पर बिजली खरीद कर अब करीब-करीब आवश्यकता अनुरूप उपलब्ध करने की स्थिति में हमलोग हैं। पीक आवर में 5500-5600 मेगावाट बिजली उपलब्ध हो रही है। स्थिति को ठीक करेंगे। इसके लिए ऊर्जा विभाग पूरे तौर पर लगा हुआ है। उम्मीद है सामान्य स्थिति में पहुंच जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि विद्युत एक्सचेंज पांच दिनों में 570 लाख यूनिट बिजली की खरीद की गई है, जो 90 करोड़ की है। लोगों की जररूतों को पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है। बिहार की ही नहीं, सब जगह की यही स्थिति है।

 

 

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि जनता ने काम करने का मौका दिया तो बिहार में बिजली की स्थिति में सुधार को लेकर तेजी से काम करना शुरू किया। शुरुआती दौर में बिजलीघरों की स्थिति में सुधार और नये बिजलीघरों की स्थापना को लेकर कार्य किये गये। बाद में तय कर दिया कि सबको एनटीपीसी को हैंडओवर करने का निर्णय लिया। अभी बिहार सरकार के अधीन कोई बिजलीघर नहीं है। उन्होंने कहा कि बरौनी ताप विद्युत केंद्र एक माह में चालू हो जाएगा। इकाई संख्या छह नौ-दस दिनों में चालू होगी।

 

Input: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.