महंगाई ने तोड़ी कमर! माचिस से रसोई गैस तक सबकुछ के बढ़े दाम, जानें क्या-क्या हुआ महंगा

त्योहारों के इस सीजन में महंगाई मार से आम आदमी की हालत खराब है। पेट्रोल और डीजल के साथ-साथ खाने-पीने का सामान, सबकुछ पहले के मुकाबले महंगा हो गया है। जिसका सीधा असर आम आदमी की जेब पर पड़ रहा है। ऐसे में लोगों को यह चिंता सता रही है कि धनतेरस, दीवाली और छठ पूजा की तैयारियों में कहीं उनकी जेब ना खाली हो जाए। आइये जानते हैं कि क्या कुछ हुआ महंगा-

 

 

 

 

सब्जियों से लेकर सरसों का तेल, सबकुछ हुआ मंहगा

 

त्योहारों के सीजन में सब्जी कीमतें आसमान छू रही हैं। एक किलो टमाटर जो एक महीने पहले 27.36 रुपये में मिल रहा था, उसकी कीमत अब बढ़कर 48.69 प्रति किलोग्राम हो गई है। वहीं, प्याज की कीमतों में पिछले एक महीने के दौरान करीब 14 रुपये का इजाफा हुआ है। उपभोक्ता मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार 23 अक्टूबर को प्याज की ताजा कीमतें 42.13 प्रति किलोग्राम थी।

 

दिल्ली, मुंबई, मंडी, श्रीनगर में सरसों के तेल कीमतें इस समय में 200 किलोग्राम के पार पहुंच गई हैं। बता दें, इस साल अक्टूबर में हुई बेमौसम बारिश ने सब्जियों की फसलों को बहुत नुकसान पहुंचाया है जिसकी वजह से आने वाले दिनों में सब्जियों की कीमतों में भी तेजी देखी जा सकती है।

 

इंडियन ऑयल काॅर्पोरेशन लिमिटेड की वेबसाइट के अनुसार एक अक्टूबर को 14.2 किलोग्राम का गैस सिलेंडर की कीमत 884.5 रुपये थी, जिसमें अभी तक कोई बदलाव नहीं हुआ है। घरेलू एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में 1 जनवरी 2021 से 1 अक्टूबर 2021 तक 190.5 रुपये का इजाफा हुआ है। आईआईएफएल सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसीडेंट (करेंसी व एनर्जी रिसर्च) अनुज गुप्ता ने हिन्दुस्तान को बताया कि अमेरिका में प्राकृतिक गैस 12 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई। इसकी वजह यह है कि वैश्विक बाजार में ईंधन की आपूर्ति में कमी ने सर्दियों से पहले देश में आशंकाओं को जन्म दिया। इससे गैस की मांग में बड़ा उछाल आया है, जो कीमत बढ़ाने का काम किया है।

 

अगर आप फोन पे यूजर्स हैं तो बता दें कि अब से 50 रुपये से अधिक के मोबाइल रिचार्ज पर आपको 1-2 रुपये प्रोसेसिंग फीस देना होगा। फोन पे के प्रवक्ता ने कहा, ”रिचार्ज को लेकर हर छोटे स्तर पर प्रयोग कर रहे हैं। इसके तहत कुछ उपयोगकर्ता मोबाइल रिचार्ज के लिए भुगतान कर रहे हैं। 50 रुपये से कम रिचार्ज पर कोई शुल्क नहीं है जबकि 50 रुपए से 100 रुपये के रिचार्ज पर एक रुपया और 100 रुपए से ऊपर के रिचार्ज पर 2 रुपए का शुल्क है।”

 

एक रुपये की मिलने वाली माचिस की डिब्बी दिसंबर में दो रुपये की मिलेगी। करीब 14 साल बाद माचिस की डिब्बी के दाम बढ़ाये जा रहे हैं। कीमत में बढ़ोतरी का ये फैसला ऑल इंडिया चैंबर ऑफ मैचेस की बैठक में लिया गया। आपको बता दें कि इस बैठक में पांच प्रमुख माचिस उद्योग निकायों के प्रतिनिधि शामिल थे। इन्होंने सर्वसम्मति से माचिस के दाम बढ़ाने का फैसला लिया है।

 

इस महीने की 12 तारीख को सीएनजी और पीएनजी की कीमतों में भी इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड ने बढ़ोतरी कर दी थी। इस इजाफे के बाद अब दिल्ली में सीएनजी की कीमत 49.76 रुपये प्रति किलोग्राम है, जबकि पीएनजी 35.11 रुपये प्रति एससीएम हो गई थी, जिसमें हाल फिलहाल कोई बदलाव नहीं हुआ है।

 

पेट्रोल और डीजल की कीमतें तो थमने का नाम ही नहीं ले रही हैं। 24 अक्टूबर को दिल्ली में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में 35 पैसे का इजाफा हुआ है। 28 सितंबर से अबतक पेट्रोल की कीमतों में 20 बार इजाफा हुआ है। जिसकी वजह से पेट्रोल 6.05 रुपये प्रति लीटर महंगा हो गया है। वहीं, 24 सितंबर से आज तक डीजल 7.35 रुपये महंगा हो गया है। इस दौरान डीजल की कीमतों में 23 बार इजाफा किया गया। बता दें, 4 मई से 17 जुलाई के बीच पेट्रोल 11.44 रुपये प्रति लीटर और डीजल 9.14 रुपये प्रति लीटर महंगा हो गया था।

 

 

 

Input: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.