12 राज्यों के वांटेड की पत्नी ने जीता पंचायत चुनाव, पति ने चोरी के पैसों से बनवाई थी 7 गांव की सड़कें, अब पत्नी बनी जिला परिषद सदस्य

इरफान ने पत्नी को चुनाव लड़ाने को चोरी के पैसों से 7 गांवों में बनवाई थी सड़कें, दिल्ली में जज के घर से उड़ाए थे 65 लाख रुपये : चोरी के आरोप में गाजियाबाद के जेल में बंद बिहार के सीतामढ़ी जिले के रहने वाले मो. इरफान उर्फ उजाले की पत्नी गुलशन परवीन ने पंचायत चुनाव में जीत हासिल की है। गुलशन परवीन पुपरी के जिला परिषद क्षेत्र संख्या 34 से प्रत्याशी थी। इरफान को गाजियाबाद पुलिस ने कुछ दिनों पहले गिरफ्तार किया था। पंचायत चुनाव में पत्नी को जीत दिलाने के लिए इरफान ने दोनों हाथों से रुपया खर्च किया। उसने एक करोड़ रुपये तो सात गांवों की गलियों में सड़क निर्माण पर ही खर्च कर दिए हैं।

 

 

इरफान की कहानी भी बड़ी दिलचस्प है। अपनी माली हालत सुधारने को वह घर छोड़ परदेस चला गया था। वर्षों बाद जब घर लौटा तो उसका रुतबा देखकर गांव वाले हैरान थे। वह अकूत संपत्ति का मालिक बन चुका था। एक रसूखदार की तरह गांव में आया। जमीन,बंगला, महंगी गाड़ियां सब कुछ था उसके पास। आसपास होने वाले आयोजनों में रुपये लुटाकर अपनी हैसियत दिखाने लगा। उजाले पुपरी के गाढ़ा जोगिया का निवासी है।

 

 

 

ग्रामीण बताते हैं कि मो. इरफान व उसका परिवार पहले मजदूरी करता था। रहने के नाम पर बस एक झोपड़ी थी। काम नहीं मिलने पर खाने को लाले पड़ जाते थे। माली हालत सुधारने के लिए वह घर छोड़कर चला गया, लेकिन जब वापस आया तो उसका रुतबा ही बदल गया था। गांव वालों को वह अपने काम के बारे में कुछ नहीं बताता था। गांव आते ही जमीन खरीदकर घर बनाया। फिर एक से एक महंगी बाइक खरीदी और गांव के कुछ युवकों को साथ घुमाने लगा। युवकों पर पानी की तरह रुपये खर्च कर अपना रौब भी जमाता था। फिर धीरे-धीरे महंगी कार खरीदने लगा। देसी के साथ ही विदेशी कंपनी की गाड़ियां से वह चलता था।

 

 

Input: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.