CBI इतिहास में भ्रष्टाचार का अनोखा केस, रेलवे स्टाफ से घूस लेने के केस में पैसेंजर गिरफ्तार

जयपुर. केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने राजस्थान में सरकारी कर्मचारी से घूस लेने के आरोप में एक आम आदमी को गिरफ्तार कर लिया है. देश में भ्रष्टाचार के इस अनोखे केस में रेलवे के एक अधिकारी से 15 हजार रुपए घूस लेने के आरोप में एक रेल पैसेंजर अरेस्ट हुआ है. मामला बहुत ही रोचक है क्योंकि आम तौर पर सीबीआई, विजिलेंस या पुलिस जैसी सरकारी एजेंसियां भ्रष्ट सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों को गिरफ्तार करती हैं.

राजस्थान में रिश्वत के इस अजीबोगरीब मामले में एक पक्ष रेलवे का टिकट बुकिंग पदम सिंह क्लर्क सरकारी कर्मचारी है तो दूसरी तरफ एक रेल यात्री शालू खान है. मई महीने में रेलयात्री शालू खान ने एक टिकट कटाई जिसके लिए पदम सिंह पर उसने 155 रुपए ज्यादा लेने का आरोप लगाया. शालू खान ने इस बात की शिकायत रेलवे निगरानी विभाग से की और रेलवे की विजिलेंस टीम की जांच में ये आरोप सच पाया गया.

रेलवे की विजिलेंस टीम पैसेंजर शालू खान का बयान दर्ज करने की कोशिश में थी और शालू खान बयान में बुकिंग क्लर्क पर लगाए आरोप से मुकरने के लिए पदम सिंह से 50 हजार रुपए मांग रहा था. पदम सिंह और शालू खान के बीच मोल-भाव करके 15 हजार रुपए में बात तय हो गई कि वो बयान में आरोप से मुकर जाएगा और पदम सिंह विजिलेंस जांच से बरी हो जाएंगे.

लेकिन बुकिंग क्लर्क पदम सिंह ने इस ब्लैकमेलिंग की शिकायत सीबीआई से कर दी और फिर सीबीआई की टीम ने पदम सिंह से 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते शालू खान को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया.

 

Input: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.