BJP प्रवक्ता के बयान पर विवाद— 99 साल की लीज पर नेहरू-गांधी ने अंग्रेजों से ली थी आज़ादी

99 साल की लीज पर नेहरू-गांधी ने अंग्रेजों से ली थी आज़ादी- BJP प्रवक्ता के बयान पर छिड़ा विवाद, फिल्ममेकर बोले, ‘व्हाट्सएप ने क्या हाल कर दिया’ : सत्ताधारी पार्टी भारतीय जनता पार्टी की प्रवक्ता रूचि पाठक के एक बयान पर विवाद छिड़ गया है। उन्होंने एक कार्यक्रम में बोलते हुए कहा है कि भारत पूरी तरह आज़ाद नहीं है बल्कि उसकी आज़ादी लीज़ पर है। उनका कहना है कि भारत की आज़ादी नेहरू और गांधी ने 90 सालों के लीज़ पर ली है। उनके इस विवादित बयान पर कांग्रेस समेत कई लोग उन्हें सोशल मीडिया पर घेर रहे हैं। कांग्रेस नेता श्रीनिवास बी वी ने रूचि पाठक का वीडियो शेयर कर उन पर जोरदार हमला किया है।

 

 

 

दरअसल लल्लन टॉप के एक कार्यक्रम में सौरभ द्विवेदी से बातचीत के दौरान रूचि पाठक ने कहा, ‘आज़ादी 99 साल की लीज़ पर ले पाए थे आप। अगर आप में इतनी कुव्वत थी तो पूरी आज़ादी लेते आप। उस वक़्त क्यों आप ने लीज पर ले ली। ये जो आज़ादी है वो 99 साल की लीज पर है। भारत पूरी तरह आज़ाद नहीं है। आप इतिहास के पन्ने उठाकर देखिए, उस वक़्त ब्रिटिश सरकार में जो नेता थे..जब स्वतंत्रता की बात चली और स्वतंत्रता के जो नेता थे आदरणीय नेहरू और महात्मा गांधी आगे थे।’

 

 

 

उन्होंने आगे कहा, ‘वो (ब्रिटिश) सरकार देना नहीं चाहते थे और उन्हीं की ही शपथ ली गई थी क्योंकि उस वक़्त पर चुनाव नहीं हुए थे। नेहरू गांधी ने किसकी शपथ ली थी? ब्रिटिश क्राउन की शपथ ली थी न कि भारत के संविधान की शपथ ली गई थी। प्रधानमंत्री पहले बन गए थे…1951 में चुनाव हुए तब जाकर पार्टी बनी और संविधान लागू हुआ था। भारत पूरी तरह आज़ाद नहीं है और ये भी कांग्रेस वालों की ही देन है।’

Input: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.