बिहार में छठ पूजा को लेकर नियम हुआ जारी, घाट पर बच्चे और बुजुर्ग नहीं जा पाएंगे, जानिए सरकारी नियम

छठ घाट पर बच्चे और बुजुर्ग नहीं जा पाएंगे:जानिए बिहार में छठ महापर्व की गाइडलाइन, घाट पर सोशल डिस्टेंसिंग से करनी होगी पूजा : लोक आस्था के महापर्व छठ पर कोरोना का साया होगा। संक्रमण से बचाव को लेकर सरकार नई गाइडलाइन तैयार कर रही है। इसमें बाहर से आने वालों की टेस्टिंग और ट्रेसिंग को लेकर बड़ी प्लानिंग है।

 

आपको सबसे पहले बता रहा है कि इस बार सरकार छठ महापर्व पर किस तरह की गाइडलाइन जारी करने वाली है। दिवाली से लेकर छठ तक टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर विशेष फोकस किया जाएगा।

 

छठ महापर्व को लेकर बच्चों और बड़ों के साथ व्रतियों के लिए अलग-अलग नियम होगा। इस नियम का सख्ती से पालन कराने को लेकर घाटों पर CCTV के साथ वाच टावर बनाया जाएगा। व्रतियों को लेकर विशेष रूप से गाइडलाइन होगी, जिसमें छठ के दौरान गंगा में डुबकी लगाने पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है। इस बार सरकार अधिक से अधिक लोगों से घर में ही छठ पर्व मनाने की अपील कर सकती है। घाटों पर गंगा के बढ़ते जलस्तर को लेकर ऐसी प्लानिंग चल रही है।

 

भीड़ में कोरोना के खतरे को लेकर छोटे बच्चों को घाट पर जाने से रोका जा सकता है। बड़े लोगों के लिए मास्क का नियम प्रभावी रहेगा और घाट पर लोगों से सोशल डिस्टेंस के नियम का पालन करने को लेकर दबाव होगा। व्रतियों को भी उपासना के साथ बचाव को लेकर सोशल डिस्टेंस में अर्घ्य देने का नियम होगा।

 

input:daily bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.