55 दिन बाद मधुबनी में बेहोश मिला SSB का लापता जवान, हाथ-पैर बंधे थे, मुंह पर टेप लगा था

मधुबनी. जयनगर अनुमंडल के देवधा थाना इलाके में एसएसबी का एक जवान सुनसान जगह पर बेहोशी की हालत में मिला. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से एसएसबी जवान को जयनगर अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया. उसकी हालत में सुधार है. बताया जा रहा है कि देवधा थाना के अकौन्हा गांव स्थित कमला नदी के पश्चिमी तटबंध के किनारे ये जवान बेहोशी की हालत में मिला था,और उसके हाथ और पैर में रस्सी बंधे होने के साथ ही मुंह पर टेप लगा हुआ था. पीड़ित जवान की पहचान बेगूसराय जिले के नावकोठी थाना क्षेत्र निवासी ज्ञान रंजन के रूप में हुई है. जवान के पिता का नाम तेज नारायण पाठक बताया जा रहा है. जवान का कहना है कि उसे नहीं पता कि वो जयनगर कैसे पहुंचा.

वहीं, जवान के परिजनों का कहना है कि उनका लड़का सीतामढ़ी में एसएसबी की 51 वीं बटालियन में हेड कांस्टेबल के रूप में पदस्थ था, लेकिन बीते 14 सितंबर की सुबह एसएसबी कैंप से उन्हें सूचना दी गई थी कि उनका बेटा कैंप से फरार हो गया है. परिजनों का कहना है कि एसएसबी के अधिकारियों ने उनके बेटे पर फरार होने का झठा आरोप लगाते हुए सीतामढ़ी के मेहसौल ओपी में प्राथमिकी दर्ज कराई थी.

परिजनों का आरोप है कि एसएसबी के कैंप में ड्यूटी के दौरान अधिकारियों द्वारा उनके बेटे को मानसिक और शारीरिक रूप से काफी प्रताड़ित किया जा रहा था. जिसके खिलाफ उनके परिवार द्वारा पटना हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई थी. इसी वजह से उनके बेटे को एसएसबी के अधिकारियों के इशारे पर साजिशन कहीं बंधक बनाकर गायब कर दिया गया था. बहरहाल 55 दिनों बाद एसएसबी के लापता जवान का इस तरह बेहोशी की हालत में मिलने से कई सवाल उठ रहे हैं. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश में जुटी है.

 

Input: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.