दरभंगा में बनेगा 750 बेड वाला बिहार का दूसरा AIIMS, प्रतिदिन होगा 2500 मरीजों का इलाज

उत्तर बिहार के लोगों को दिवाली का तोहफा देते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बड़ा ऐलान किया. राज्य सरकार की कैबिनेट ने दरभंगा एम्स के लिए जमीन ट्रांसफर करने को मंजूरी दे दी. इसके साथ ही दरभंगा में बहुप्रतीक्षित एम्स के निर्माण का मार्ग प्रशस्त हो गया. बिहार सरकार ने लिए इसके लिए केंद्र को 200 एकड़ से ज्यादा जमीन हस्तांतरित कर दी. दरभंगा में डीएमसीएच के अलावा यह एक बड़ा अस्पताल होगा, जो पूरे उत्तर बिहार के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने में सक्षम होगा.

 

इस अस्पताल का निर्माण पूरा हो जाने के बाद ओपीडी में एक दिन में 2500 मरीजों का इलाज हो सकेगा. साथ ही यहां 100 सीटों पर एमबीबीएस और 60 सीटों पर बीएससी नर्सिंग की पढ़ाई भी हो सकेगी.दो महीने पहले ही स्थानीय छात्र संगठन मिथिला स्टूडेंट्स यूनियन ने दरभंगा एम्स की स्थापना के लिए घर-घर से ईंट लाने का बड़ा अभियान भी छेड़ा था.

 

बिहार सरकार के मंत्री संजय कुमार झा ने बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार ने बिहारवासियों को ‘दिवाली गिफ्ट’ दी है. इसके तहत ही दरभंगा एम्स के लिए केंद्र सरकार को 200 एकड़ जमीन हस्तांतरण की प्रक्रिया को मंजूरी दी गई है. बिहार में स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर उपलब्ध कराने की दिशा में दरभंगा एम्स की स्थापना महत्वपूर्ण कदम बताया जाता रहा है.

 

input:dtw24 news

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.