माँ ने ही अपने दुधमुंहे बच्चे का घोंटा गला, पति से विवाद में दिया घटना को अंजाम

समस्तीपुर जिला के कल्याणपुर थाना क्षेत्र के मिर्जापुर गांव में रविवार की रात एक मां ने अपने 22 माह के दूधमुंहे बच्चे की गला घोटकर हत्या कर दी. हत्या करने के बाद शव को अपने दरवाजे के पास बथान में रख दिया। उसके चेहरे पर कोई गम या दुख नहीं दिख रहा था। निडर होकर थाने पर बात कर रही थी। इस मामले में मृतक बच्चे के पिता रंजेश सहनी ने कल्याणपुर थाने में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है।

 

प्राप्त जानकारी के अनुसार महिला का पति हैदराबाद में रहकर मजदूरी करता है। वह दीपावली से पहले अपने घर आया था। पिछले कुछ दिनों से पति-पत्नी में किसी बात को लेकर अनबन चल रही थी। दंपत्ति के दो बच्चे थे। पिछले 15 दिनों के भीतर दोनों बच्चों की मौत हो चुकी है। 14 दिन पूर्व एक पुत्री जिसका नाम चूली था, की भी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी।

 

 

अचानक रविवार की रात पुत्र की भी गला घोंटकर हत्या कर दी गई है। शव को देखने पर पता चलता है कि गले पर गहरे जख्म हैं व गला फूला हुआ है। इससे प्रतीत होता है कि बच्चे की गला घोंटकर हत्या की गई होगी।

 

पति रंजेश की सूचना पर गई कल्याणपुर पुलिस ने आरोपी पत्नी सीमा देवी (30 वर्ष) को गिरफ्तार कर थाने ले आई है। वहीं पुलिस ने मृतक बच्चे के शव को जब्त कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल समस्तीपुर भेज दिया है।

 

 

 

 

जानकारी के अनुसार रंजेश व सीमा की शादी आज से 6 वर्ष पूर्व धूमधाम से वैशाली जिले के पातेपुर थाना अंतर्गत जनेमुरण गांव में हुई थी। इसके बाद पिछले 6 वर्ष में दंपत्ति के दो बच्चे भी हुए। इसमें 4 वर्षीया चुल्ली कुमारी व 22 माह का शेखर कुमार था। 14 दिन पूर्व चिल्ली की भी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। उसका अंतिम संस्कार परिजनों ने कर दिया था। इसी बीच रविवार की रात 22 माह का पुत्र शेखर की भी मौत हो गई।

 

दिए गए आवेदन के आधार पर पुलिस ने मामले में सीमा को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इस संबंध में थानाध्यक्ष परमानंद लाल कर्ण का कहना है कि दिए गए आवेदन के आधार पर गिरफ्तारी की गई है। जांच के क्रम में महिला के प्रेम-प्रसंग व अन्य बिन्दुओं पर भी जांच होगी।

 

 

Input: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.