बिहार: आइपीएल के सट्टे में 10 लाख हार गये, कर्ज चुकाने के लिए जीजा-साला पहुंचे एटीएम काटने

राजधानी पटना की पुलिस ने एक ऐसे जीजा-साले की जोड़ी को गिरफ्तार किया है जो आईपीएल (IPL) के सट्टे में 10 लाख हारने के बाद एटीएम काट (ATM) रहे थे. पत्रकार नगर थाना क्षेत्र के 90 फीट रोड स्थित एटीएम को काटने के दौरान जीजा-साला समेत तीन अपराधी पटना पुलिस के हत्थे चढ़ गये. पटना पुलिस की मानें तो आईपीएल मैच में सट्टा पर करीब 10 लाख रूपए गंवाने के बाद उसका कर्ज चुकाने के लिए साले के साथ मिलकर एक फौजी ने एटीएम लूट की प्लानिंग बनाई थी. इसमें इन दोनों ने अपने एक साथी को भी शामिल कर लिया.

 

 

 

 

ये तीनों अपराधी कार से एटीएम काटने पहुंचे थे. एटीएम काटने के दौरान इन तीनों पर एक आदमी की नजर पड़ी और उसने स्थानीय थाना पर खुद पहुंचकर इस पूरे मामले की जानकारी पत्रकार नगर पुलिस को दी. इसके बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और एटीएम शटर को बाहर से ही बंद कर दिया. बाद में तीनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तारी के दौरान पुलिस और अपराधियों के बीच मारपीट की भी घटना हुई. तीनों शातिरों ने एटीएम से 35 लाख 45 हज़ार रुपये लूट की योजना बनाई थी. घटनास्थल पर दो एटीएम हैं. एक एचडीएफसी का एटीएम और दूसरा टाटा इंडिकैश का एटीएम था.

 

जानकारी के अनुसार एचडीएफसी वाले एटीएम में उस वक्त 33 लाख रुपए थे जबकि टाटा इंडिकैश में 2 लाख 45000 थे. तीनों शातिरों ने एटीएम के ठीक बगल के रेस्टोरेंट में लूट की प्लानिंग रची थी. इन तीनों में सरगना सीतामढ़ी जिले के लक्ष्मीपुर गांव स्थित सोनबरसा का रहने वाला जितेंद्र प्रसाद का बेटा शुभम है जो पटना के कंकड़बाग थाना क्षेत्र के आरएमएस कॉलोनी के आशा डबल डायमंड अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 102 में रहता है. दूसरा अपराधी सीतामढ़ी जिले के बेला थाना के धनहा निवासी 32 साल के वाल्मीकि कुमार ठाकुर है जो जीजा बताया जाता है जबकि तीसरा शातिर पटना के दीदारगंज का रहने वाला 21 वर्षीय राहुल कुमार है.

 

वाल्मीकि ठाकुर थल सेना का जवान है और वह दीपावली में पटना अपने साले के पास आया था. कृति एचडीएफसी पुणे बानेर ब्रांच में ट्रेलर का काम करता है और लॉकडाउन में पटना आया हुआ है. कृति के पिता वैशाली के महुआ में उत्तर बिहार बैंक में कार्यरत हैं. तीसरा आरोपी राहुल कृति का दोस्त है और राहुल के पिता एलआईसी में काम करते हैं. पुलिस ने बताया कि कृति ने बैंकिंग नेटवर्किंग की पढ़ाई की है जबकि राहुल बी-टेक किया हुआ है. पटना पुलिस की मानें तो कृति पहले भी कंकड़बाग थाना क्षेत्र से लूट के केस में जेल जेल जा चुका है. कृति पत्रकार नगर थाना क्षेत्र से ब्राउन शुगर मामले में भी जेल भेजा जा चुका है. कृति का बड़ा भाई पुटूश हत्याकांड मामले में जेल जा चुका है.

 

 

 

Input: Daily Bihar

 

 

 

 

 

 

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.