दुल्हनिया घर लाने को बिहार में नहीं मिल रहा BMW, बोलेरे-स्कार्पियो का भी टोटा, महंगा हुआ किराया

दुल्हनिया घर लाने को बीएमडब्ल्यू खोज रहे दूल्हे, तेज लग्न में बाराती गाड़ियों का टोटा, ट्रेवल एजेंसी मांग रहे 03 से 04 गुना तक भाड़ा, बारात के लिए कार, स्कार्पियो की अधिक मांग, तिलक-शादी का लेते अलग-अलग रेट, बुकिंग के दौरान मांग रहे 70 फीसदी भाड़ा

थाने में अनुमति को पहुंच रहे इक्का-दुक्का : मुजफ्फरपुर। जिले में प्रतिदिन 250-300 शादियां हो रही हैं। तेज लग्न इसकी संख्या और बढ़ जाती है। लेकिन, कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किसी स्तर पर नहीं हो रहा है। शादी समारोह आयोजक भी प्रोटोकॉल भूल रहे हैं। वहीं, पुलिस भी इसका पालन कराने में उत्सुकता नहीं दिखा रही है। जबकि, आयोजक को तीन दिन पहले स्थानीय थाने से इसके लिए अनुमति लेनी है।

बुकिंग के दौरान मांग रहे 70 फीसदी भाड़ा : इधर, दूसरी ओर बारातियों की गाड़ी का टोटा हो गया है। तकरीबन फरवरी 2022 तक के लग्न के लिए गाड़ियों की बुकिंग करायी जा चुकी है। इसके लिए ट्रेवल एजेंसी संचलाक सामान्य दिनों की अपेक्षा चार से पांच गुना भाड़े की डिमांड कर रहे हैं। इसके बावजूद गाड़ी उपलब्ध होगी या नहीं, इसकी गारंटी नहीं है। पहले 70 फीसदी तक एडवांस की भी मांग कर रहे हैं। दिसंबर 2021 में होने वाले लग्न के लिए गाड़ियां उपलब्ध नहीं है। दूल्हा के लिए बीएमडब्ल्यू जैसी महंगी कार और बरातियों के लिए कार व स्कॉर्पियों की डिमांड अधिक है। बताया गया है कि तिलक-फलदान और बारात के लिए संचालकों ने गाड़ियों का अलग-अलग रेट भी रखा है।

आंकड़ा एक नजर में, शहरी क्षेत्र, ट्रेवल एजेंसी 50 से अधिक, विवाह भवन 130 से अधिक, रिसौट 10 से अधिक, गाड़ियों का भाड़ा, 1200 से 1500 (सामान्य), 2000 से 5000(तेज लग्न)

 

Input: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.