22 थप्पड़ खाने वाले लखनऊ के Cab ड्राइवर की राजनीति में एंट्री, पुरुषों के लिए लड़ेंगे लड़ाई

लखनऊ में थप्पड़ गर्ल प्रियदर्शनी यादव द्वारा 22 थप्पड़ खाने के बाद चर्चा का विषय बने कैब ड्राइवर सआदत अली ने राजनीति में एंट्री की है. सआदत अली ने पुरुषों की आवाज उठाने के लिए शिवपाल सिंह यादव की पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का दामन थामा है.

 

उनका कहना है कि वह पुरुषों की लड़ाई लड़ेंगे.

राजनीति में एंट्री करने के सवाल पर कैब ड्राइवर सआदत अली का कहना है कि वह देश में उन पुरुषों के लिए खड़े होकर काम करना चाह रहे हैं, जो महिलाओं के द्वारा प्रताड़ित है. यही नहीं सआदत अली अब देशभर के कैब ड्राइवर के साथ भी खड़े हुए है और उनका कहना है कि वह अब पुरुषों की आवाज बनकर खड़े रहेंगे.

कैब ड्राइवर सआदत अली के मुताबिक, बहुत से ऐसे मामले रहते हैं जिनमें पुरुषों की सुनवाई नहीं होती है, ऐसे में मुझे अभी तक न्याय नहीं मिला है, मेरे ही केस में जहां तक पुलिस ने अभी तक न्याय नहीं है, अब मैं राजनीतिक पार्टी ज्वॉइन करके इसके सहारे न्याय पा सकूंगा और अन्य पुरुषों की मदद कर सकूंगा.

सआदत अली के साथ आए उनके वकील ने कहा कि हमें न्याय नहीं मिला इसलिए सआदत अली ने पार्टी ज्वॉइन कर लिया है. दरअसल, इसी साल 30 जुलाई को लखनऊ के बाराबिरवा चौराहे पर कैब चालक सआदत अली को प्रियदर्शनी यादव ने बाराबिरवा चौराहे पर 22 थप्पड़ मारे थे, जिसका वीडियो वायरल हुआ था.

इस वीडियो में प्रियदर्शनी यादव बिना किसी गलती के भरे चौराहे पर वह कैब ड्राइवर को धक्का देती तो कभी कालर पकड़कर खींचती. कैब चालक के खिलाफ पुलिस ने कार्यवाही भी की थी. बाद में जब जांच में पता चला कि कैब चालक निर्दोष है तो युवती के खिलाफ लूट, मारपीट समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था.

 

input:aaj tak

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.