मंत्री लेसी सिंह के भतीजे का घर कुर्क, घर तोड़ा और अलमारी, बर्तन, किवाड़ जब्त कर ले गई पुलिस

सरसी में 12 नवंबर को हुए पूर्व जिला परिषद सदस्य रिंटू सिंह उर्फ विश्वजीत सिंह की गोली मारकर हत्या मामले में बड़ी कार्रवाई हुई है. खाद्य व उपभोक्ता संरक्षण मंत्री लेसी सिंह के भतीजे और इस कांड के मुख्य आरोपी आशीष सिंह उर्फ अठिया के घर की पुलिस ने कुर्की जब्ती की. एसपी दयाशंकर के निर्देश पर सरसी पुलिस ने आरोपी आशीष सिंह उर्फ अठिया और सुदेश सिंह के घर की कुर्की जब्ती के लिए कोर्ट से कुर्की की मंजूरी ली. इसके बाद आज बनमनखी एसडीपीओ कृपाशंकर आजाद के नेतृत्व में सरसी, बनमनखी और जानकीनगर थाना की पुलिस सरसी गांव स्थित आशीष कुमार उर्फ अठिया के घर पहुंची. पहले पुलिस ने चारों तरफ से घर को घेर लिया और तीन घरों को तोड़कर कुर्की-जब्ती की कार्रवाई की.

 

कुर्की के दौरान अठिया के घर से 40 सामानों की जब्ती सूची बनाई गई, जिनमें अलमारी, बर्तन, किवाड़ समेत कई चीजें जब्त की गई. वहीं उसके तीनों घरों को भी तोड़ दिया गया. गुरुवार को समय कम रहने के कारण दूसरे आरोपी सुदेश सिंह के घर की कुर्की नहीं हो पाई.

 

 

 

 

गौरतलब है कि 12 नवंबर को सरसी थाना के बगल में गोली मारकर पूर्व जिला परिषद सदस्य रिंटू सिंह की हत्या कर दी गई थी. इसके बाद आक्रोशित लोगों ने वहां रोड जाम कर थाना परिसर में आग लगा दिया था. तब एसपी दयाशंकर ने 48 घंटे के अंदर कार्रवाई की मोहलत मांगी थी.

 

इस मामले में रिंटू सिंह की पत्नी वर्तमान जिला परिषद सदस्य अनुलिका सिंह ने मंत्री लेसी सिंह के भतीजा आशीष सिंह और अठिया और सुदेश सिंह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवाई थी. वहीं, मंत्री पर राजनीतिक साजिश का आरोप लगाया गया था. हालांकि, मंत्री लेसी सिंह ने इस आरोप का खंडन करते हुए इससे बेबुनियाद बताया था.

 

 

 

वहीं, घटना के बाद से आशीष सिंह उर्फ आठिया और सुदेश सिंह फरार था. एक सप्ताह पहले पुलिस ने दोनों के घरों पर इश्तेहार भी चिपकाया था. इसके बावजूद किसी ने न तो कोर्ट में सरेंडर किया न ही पुलिस इन दोनों को गिरफ्तार कर पाए. घर की कुर्की किए जाने से पूरे इलाके में चर्चा गर्म है.

 

 

 

Input: DTW24

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.