नीतीश के इस नेता को बुढ़ारी में आता है जवानी का जोश, सुबह में शस्त्र पूजा और रात में बार बाला के साथ डांस

ये हैं श्याम बहादुर, JDU के पूर्व MLA- सुबह में शस्त्र पूजा और रात में बार बालाओं की, खूब पैसे लुटाये : Patna : सीवान के बधरिया से जदयू के पूर्व विधायक और मुख्यमंत्री के बेहद करीबी श्याम बहादुर सिंह एक बार फिर चर्चा में आ गये हैं। विश्वकर्मा पूजा के दिन उनकी दिनचर्या ने लोगों को हैरान कर दिया है। उस दिन सुबह में वे शस्त्र पूजा करते दिखे। जिसमें तमाम तरह के शस्त्र पड़े हुये थे। मशीन गन से लेकर छोटी पिस्टल तक।

उसके बाद शाम को रंगरलियां मनाने गये और आरकेस्ट्रा में बार बालाओं के साथ खूब ठुमके लगाये। वैसे इससे पहले भी वे बार बालाओं के साथ ठुमके लगाने में मशगूल होकर खूब नाम कमा चुके हैं। और वे इसे बुरा भी नहीं मानते हैं। उनसे जब इस संदर्भ में पूछा गया तो उन्होंने कहा- ये तो आर्ट है। सबको करना चाहिये। नाचने में बुराई क्या है, मेरे लोग इसे बुरा नहीं मानते। फिलहाल तो उनकी यह दोनों तस्वीर सोशल मीडिया पर गदर मचाये हुये है। इससे पहले भी उनके कई वीडियो वायरल हो चुके हैं। नीचे एक पुराना वीडियो देख सकते हैं उनके बार बालाओं के साथ डांस के-

उनका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर सामने आया है, जिसमें विधायक आर्केस्ट्रा की महिलाओं के साथ मंच पर जमकर डांस करते नजर आ रहे हैं। इतना ही नहीं बच्चियों पर भी पैसे की बर्बादी हो रही है। लड़कियों पर नोटों की बारिश कर रहे हैं। बार डांसर्स ने छोटे कपड़े पहने हुये थे। पूर्व विधायक कुर्सी से उठे और उनके पास जाकर नाचने लगे।

यह वीडियो सीवान के जीबीनगर तरवारा थाना क्षेत्र के उश्री गांव का है, जहां शुक्रवार देर रात विश्वकर्मा पूजा के मौके पर ऑर्केस्ट्रा का आयोजन किया गया। यहां पूर्व विधायक भी पहुंचे थे। मंच पर एक कुर्सी पर बैठे पूर्व विधायक ऑर्केस्ट्रा के लड़कों का डांस देख रहे थे। पूर्व विधायक अपने रंगीन मूड में आ गये और कुर्सी से उठे और बाला को पीठ थपथपाते हुये नाचने लगे। जिससे वहां मौजूद लोगों ने खूब एंटरटेन किया। बाला पर काफी पैसा भी खर्च हुआ।
विधायक के नाचने का यह पहला मामला नहीं है बल्कि समय-समय पर विधायक ऑर्केस्ट्रा के बाला के साथ डांस कर खूब सुर्खियां बटोरते हैं। इतना ही नहीं चुनाव के समय डांस करते हुये वोट मांगने की बात हो या कोई और मुद्दा, विधायक हमेशा चर्चा के केंद्र में रहते हैं। उनके डांस पर पहले भी कई बार जब उनसे पूछा गया था कि आप ऐसा क्यों करती हैं? तो वे कहते हैं- यह एक कला है, भले ही हम नृत्य करते हैं, लेकिन वहां भावना हमारी दूसरी है।

 

Input: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.