फिल्ममेकर अली अकबर और उनकी पत्नी ने अपनाया हिं’दू धर्म, कहा— इ’स्लाम से मेरा विश्वास उठ गया

NEW DELHI : फिल्ममेकर अली अकबर हिंदू बने:CDS रावत की मौत पर खुशी मनाने वालों से नाराज होकर किया फैसला, पत्नी ने भी धर्म बदला : देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत का बुधवार को हेलिकॉप्टर क्रैश में निधन हो गया। पूरा देश उनके निधन पर शोक मना रहा था, तो दूसरी तरफ कुछ लोग सोशल मीडिया पर इसका मजाक उड़ा रहे थे। कट्टरपंथियों की इन हरकतों से दुखी होकर मलयाली फिल्मों के डायरेक्टर अली अकबर और उनकी पत्नी लुसीअम्मा ने इस्लाम छोड़कर हिंदू धर्म अपनाने का फैसला किया है।

 

 

 

 

 

इस्लाम से मेरा विश्वास उठ गया : फिल्ममेकर अली अकबर ने फेसबुक पर लाइव पर अपने और पत्नी के इस्लाम छोड़कर हिंदू धर्म अपनाने का ऐलान किया। उन्होंने अपना नाम बदलकर ‘रामसिम्हन’ रखने का ऐलान भी किया। उन्होंने कहा कि मुस्लिमों की तरफ से ऐसी हरकत का विरोध सीनियर मुस्लिम नेताओं और इस्लामिक धर्मगुरुओं ने भी नहीं किया। देश के बहादुर बेटे का ऐसा अपमान स्वीकार्य नहीं है। अकबर ने यह भी कहा कि उनका इस्लाम से विश्वास उठ गया है।

 

 

 

 

 

 

आज से मैं मुस्लिम नहीं, एक भारतीय हूं : अली अकबर ने सोशल मीडिया पर जारी वीडियो में कहा, ‘मुझे जन्म के समय से ही जो चोला मिला था, उसे उतारकर फेंक रहा हूं। आज से मैं मुस्लिम नहीं हूं। मैं एक भारतीय हूं। मेरा यह संदेश उन लोगों के लिए है, जिन्होंने भारत के खिलाफ हंसते हुए स्माइली पोस्ट की है।’ अकबर की इस पोस्ट पर कई लोग उनका विरोध कर रहे हैं, तो कई उनका समर्थन भी कर रहे हैं।

 

मैं ऐसे धर्म के साथ नहीं जुड़ा रह सकता हूं : लाइव वीडियो के अलावा एक न्यूज वेबसाइट से बातचीत में अली अकबर ने कहा था, ‘जनरल बिपिन रावत की मौत की खबर पर हंसने वाले अधिकतर लोग मुस्लिम थे। उन्होंने ऐसा इसलिए किया, क्योंकि जनरल रावत ने पाकिस्तान और साथ ही कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ कड़े कदम उठाए थे। मैं ऐसे धर्म के साथ आगे नहीं जुड़ा रह सकता हूं।’ हालांकि, उन्होंने यह भी कहा था कि वह अपनी बेटियों को धर्म बदलने के लिए मजबूर नहीं करेंगे और वह इसे उनकी पसंद पर छोड़ देंगे।

 

कट्टरपंथियों ने उड़ाया था जनरल की मौत का मजाक : अली अकबर ने CDS बिपिन रावत के निधन पर एक लाइव वीडियो बनाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी थी। उनके इस वीडियो पर कुछ कट्टरपंथी लोगों ने हंसने वाली इमोजी शेयर की थीं। कुछ लोगों ने CDS रावत की मौत का मजाक भी उड़ाया था।

 

अली के इस वीडियो के बाद फेसबुक ने उनके पोस्ट को नस्लीय बताकर उनका अकाउंट सस्पेंड कर दिया था। इसके बाद अली ने अपना नया फेसबुक अकाउंट बनाया और CDS की मौत पर मुस्कुराने वालों को दंडित करने और इस्लाम छोड़ने की बात कही।

 

केरल में भाजपा के पदाधिकारी थे अली अकबर : अली अकबर पहले केरल भाजपा की प्रदेश समिति के सदस्य थे। हालांकि, अक्टूबर में पार्टी नेतृत्व के साथ हुई कुछ अनबन के बाद अकबर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। अकबर इससे पहले 2015 में भी चर्चा में आए थे, जब उन्होंने मदरसे में पढ़ाई के दौरान यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था।

 

हेलिकॉप्टर में 14 लोग सवार थे, 13 की मौत : जिस हेलिकॉप्टर क्रैश में जनरल बिपिन रावत का निधन हुआ, उसमें उनकी पत्नी मधुलिका के अलावा सेना के 13 जवान और अधिकारी सवार थे। हादसे में शहीद होने वालों में ब्रिगेडियर एलएस लिड्‌डर, लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह, विंग कमांडर पीएस चौहान, स्क्वॉड्रन लीडर के सिंह, नायक गुरसेवक सिंह, नायक जितेंद्र कुमार, लांस नायक विवेक कुमार, लांस नायक बी. साई तेजा, जूनियर वारंट ऑफिसर दास, जूनियर वारंट ऑफिसर ए प्रदीप और हवलदार सतपाल सवार थे। हेलिकॉप्टर क्रैश में अकेले बचने वाले शख्स हैं ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह, जो फिलहाल गंभीर स्थिति में हैं और बेंगलुरु में उनका इलाज चल रहा है।

 

 

 

 

 

Input: Daily Bihar

 

 

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.