पैसा गिनवाने के लिए बैंक से मंगवानी पड़ी मशीन, बिहार के घूसखोर अधिकारी के बैग से निकला 2 करोड़

श्रम प्रवर्तन अधिकारी के घर मिले पौने 2 करोड़ कैश:वैशाली LEO के पटना-मोतिहारी आवास पर निगरानी की रेड; 42 बैंक खाते और 17 ATM कार्ड मिले, बैग के अंदर टीम को पौने 2 करोड़ रुपए कैश रखे हुए मिले। 7 करोड़ की कीमत के जमीन के कागजात बरामद, पूर्वी चंपारण के रहने वाले हैं दीपक शर्मा

वैशाली के श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी (LEO) दीपक कुमार शर्मा के ठिकानों पर निगरानी विभाग ने छापा मारा। शनिवार को हुई इस कार्रवाई में लेबर इंफोर्समेंट ऑफिसर के पटना और मोतिहारी के ठिकानों पर छानबीन की गई। शनिवार की शाम तक जारी कार्रवाई में उनके पास करोड़ों रुपए की प्रॉपर्टी होने की जानकारी मिली है। पटना में उनके आवास से ही करीब पौने 2 करोड़ रुपए कैश में बरामद किया गया है। इसे गिनने के लिए अधिकारियों को बैंक से मशीन मंगवानी पड़ी।

इससे पहले निगरानी टीम ने रेड के लिए कोर्ट से सर्च वारंट लिया था, जिसके बाद आज यह कार्रवाई हुई है। बता दें कि आय से अधिक संपति मामले में अधिकारियों पर लगातार कार्रवाई जारी है। जिसके तहत आज दीपक कुमार शर्मा के ठिकानों पर रेड मारी गई।

जानकारी के अनुसार दीपक शर्मा के पटना में आलमगंज इलाके के बजरंगपुरी मोहल्ले के आवास और मोतिहारी शहर के चांदमारी इलाके के आवास पर दो टीमों ने रेड मारी। टीम को इस दौरान पटना आवास से पौने दो करोड़ रुपए कैश, करीब 47.54 लाख रुपए मूल्य के सोने और चांदी के जेवरात बरामद हुए हैं। इसके अलावा बैंक और पोस्ट ऑफिस के 42 खाते, LIC की 14 पॉलिसी और 17 अलग-अलग बैंकों के एटीएम और क्रेडिट कार्ड मिले हैं।

तलाशी के दौरान इनके पास से 25 जमीनों की खरीद और एग्रीमेंट के कागजात भी मिले हैं। रेड करने वाली टीम के अनुसार इनकी शुरूआती अनुमानित कीमत करीब 7 करोड़ रुपए आंकी गई है। तलाशी का काम खबर लिखे जाने तक भी जारी है।

दीपक शर्मा पूर्वी चंपारण जिला के शिकारगंज थाना क्षेत्र स्थित सिरौना गांव के रहने वाले हैं। मोतिहारी शहर के चांदमारी इलाके में भी इनका आवास है। वर्तमान में हाजीपुर में श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी के रुप में तैनात हैं। इससे पहले दीपक कैमूर में तैनात थे। निगरानी का कहना है कि कैमूर में ही रहते हुए इन्होंने अकूत संपत्ति अर्जित की है।

इनके खिलाफ निगरानी थाना में कांड संख्या-52/2021 बीते 10 दिसंबर को दर्ज की गई थी। इन पर इनके वैध आय के स्रोतों से करीब एक करोड़ 6 लाख रुपए रुपए अधिक की संपत्ति अर्जित करने का आरोप है। छापेमारी टीम में मुजफ्फरपुर परिक्षेत्र के डीएसपी कन्हैया कुमार, डॉ खुर्शीद आलम, संजय जायसवाल सहित अन्य अधिकारी और कर्मी मौजूद रहे।

 

 

Input: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.