यह बिहार है, यहां मुखिया चुनाव में वोट नहीं देने पर वोटर से जबरन थू’क च’टवाया जाता है

PATNA : दुनिया को लोकतंत्र सिखाने वाले बिहार की शर्मनाक तस्वीर, वोट ना देने पर थूक चटवाया; देखें वीडियो : लिच्छवी गणराज्य के जरिए दुनिया को लोकतंत्र का मंत्र देने वाले बिहार से बेहद शर्मनाक तस्वीर सामने आई है। औरंगाबाद जिले में पंचायत चुनाव में वोट ना देने पर महादलित समुदाय के युवकों से उठक-बैठक कराई गई और थूक चाटने पर मजबूर किया गया। घटना का वीडियो वायरल हो रहा है, जिसे कुटुंबा प्रखंड के अंबा थाना क्षेत्र के डुमरी पंचायत के खरांटी टोले भुईयां बिगहा का बताया जा रहा है। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी मुखिया प्रत्याशी रहे बलवंत कुमार को गिरफ्तार कर लिया है।

 

 

 

 

 

बताया गया कि पंचायत चुनाव में मुखिया पद के लिए वोट नहीं देने पर मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया है। युवकों की पहचान अनिल कुमार भुइयां व मंजीत भुइंया के रूप में की गई है। वीडियो में युवकों के सामने इस पंचायत से मुखिया प्रत्याशी रहे बलवंत कुमार दिखाई पड़ रहे हैं, जो उनसे जबरन उठक-बैठक करा रहे व थूक चटवा रहे हैं। उठक-बैठक के दौरान वे उन पर लात तानते भी देखे जा रहे हैं। आरोप है कि चुनाव में वोट न देने को लेकर मुखिया प्रत्याशी के द्वारा ऐसा कराया गया।

 

 

आरोपी मुखिया प्रत्याशी पंचायत के सिंघना गांव के निवासी हैं। वायरल वीडियो के आलोक में एसपी कांतेश कुमार मिश्रा के निर्देश पर अंबा पुलिस कार्रवाई की है। थानाध्यक्ष नरेंद्र कुमार ने बताया कि इस मामले में मंजीत भुइयां के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है और आगे की कार्रवाई की जाएगी। इधर मुखिया प्रत्याशी ने लगाए गए आरोपों से इंकार किया है। उन्होंने कहा है कि युवक शराब के नशे में हंगामा मचा रहे थे। ग्रामीणों ने बताया कि काउंटिंग के दिन से ही यह वीडियो वायरल हो रहा है।

 

वायरल वीडियो में स्पष्ट दिख रहा है कि मारपीट कर रहे मुख्य प्रत्याशी बलवंत कुमार बार-बार गाली गलौज कर रहे हैं। इसके साथ ही 10 हजार रुपए की शराब पी जाने का आरोप भी महादलित युवकों पर लगाया गया है। महादलितों के बारे में कई आपत्तिजनक शब्दों का भी इस्तेमाल किया गया है। इसमें कहा गया है कि चुनाव में दस हजार रुपए की शराब उक्त लोगों ने पी ली। कई लोगों से चुनाव के दौरान पैसे लिए और उन्हें वोट भी नहीं दिया। हालांकि पीट रहे युवकों ने अपना बचाव किया लेकिन उनकी मदद किसी ने कही नहीं की। इस बीच स्थानीय व्यक्ति के द्वारा इसका वीडियो बनाया जा रहा था। उठक-बैठक के दौरान भी दबंगता की हद पार की गई। दोनों पैरों को सटाकर उठक बैठक करने को कहा गया साथ ही बीच-बीच में गाली गलौज की जाती रही। अब पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है

 

।nput : Daily Bihar

 

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.