बिहार के CM नीतीश का बड़ा फैसला, इन महिलाओं को सरकार देगी एक लाख रुपये, करना होगा ये काम

PATNA : नीतीश सरकार इन महिलाओं को देगी एक लाख रुपये, करना होगा ये काम : मुख्यमंत्री नारी शक्ति योजना के तहत नव स्वीकृत ‘सिविल सेवा प्रोत्साहन राशि’ योजना का लाभ अब पिछड़े वर्ग की महिलाओं को भी मिलेगा। अब तक सिर्फ सामान्य वर्ग की महिलाओं को ही योजना का लाभ मिलता था। योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन की तिथि बढ़ा दी गई है, अब इस योजना में 31 दिसम्बर तक आवेदन स्वीकार किये जायेंगे।

 

 

 

 

इस योजना के तहत राज्य सरकार उन उम्मीदवारों को आर्थिक सहायता दे रही है, जो केंद्र लोक सेवा आयोग यूपीएससी 2021 की प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण हैं। महिला एवं बाल विकास निगम द्वारा संचालित इस योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन स्वीकार करने की तिथि 31 दिसम्बर 2021 तक बढ़ा दी गई है।

 

 

 

 

महिला एवं बाल विकास की प्रबंध निदेशक हरजोत कौर बम्हरा ने बताया कि इस योजना में सामान्य वर्ग और पिछड़ा वर्ग की उन महिलाएं को 1 लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी, जिन्होंने यूपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा पास की है। यह पैसा उम्मीदवार को एकमुश्त दिया जाएगा ताकि उसे मुख्य परीक्षा की तैयारी में किसी तरह की दिक्कत नहीं हो।

 

योजना का लाभ उन्हें ही मिलेगा जो बिहार का निवासी होगी। आवेदन करने के लिए आवेदिका के पते का सबूत, पहचान का प्रमाण आवश्यक है। इसके साथ ही आवेदिका का स्वयं का बैंक खाता और आधार होना भी जरुरी है। अब तक 46 महिलाओं ने आवेदन किया है। मिली जानकारी के अनुसार ऑनलाइन आवेदन https:// fts. bih. nic. in/ swdscholarship/ default. html इस लिंक के माध्यम से किया जा सकता है।

 

स्थानीय लोगों का कहना है, ‘संदेश थाना क्षेत्र के पंडुरा रामपुर निवासी राजेश्वर शर्मा की पुत्री संगीता कुमारी से बड़े धूमधाम से सिरमन शर्मा दूसरी शादी कर रहा था। लड़की के परिवार वालों को यह भनक भी नहीं थी कि जिससे अपनी बेटी की शादी कर रहे हैं वो पहले से शादी-शुदा है। बड़े ही अरमानों से अपनी बेटी को देने के लिए शगुन और सज्जो-समान गाड़ी में भरकर मंदिर आए थे, तभी पूरा मामला ही पलट गया और उनके इन अरमानों पर पानी फिर गया।’

 

IInput: Daily Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.