नई पहचान- हमारी शान मंदार पर्वत पर रोप-वे का निर्माण, खूबसूरत नजारों से सीएम भी हुये अभिभूत

मुख्यमंत्री ने आज दो महत्वपूर्ण पर्यटन योजनाओं का उद‍्घाटन किया। दोनों ही परियोजनाएं प्रदेश की सकारात्मक तस्वीर को दर्शा रही है। एक तो मंदार पर्वत पर रोप-वे का उद‍्घाटन किया। दूसरा ओढ़नी जलाशय में बोटिंग का। वे काफी देर तक जलाशय के किनारे पर बैठे और अच्छे मौसम का आनंद लिया। इस दौरान उन्होंने अफसरों से पर्यटन के भविष्य की संभावनाओं और योजनाओं पर भी बात की। इस जलाशय के डेवलपमेंट में डैम साइड कैम्पिंग, मेडिटेशन कैंप, मड हाउस स्टे, जंगल सफारी, नेचर सफारी, माउंटेन कैम्पिंग, डैम साइड साइकिलंग और बर्ड वाचिंग को प्रमोट किया जा रहा है। नीतीश कुमार ने कहा कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये वृक्षारोपण को बढ़ावा देने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि पुरातात्विक साइट भदारिया का भी एरियल सर्वे किया। वहां पर भी खुदाई के बाद लोगों को अपने इतिहास से जुड़ने में मदद मिलेगी।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सबसे पहले बांका जिले के बौंसी प्रखंड स्थित पौराणिक मंदार पर्वत गये और वहां पर रोप-वे का उद‍्घाटन किया। मुख्यमंत्री ने ट‍्वीट किया- मंदार के वास्तविक स्वरूप के साथ बिना छेड़छाड़ किए पर्यटकों की सुविधा को लेकर बेहतर इंतजाम किये जा रहे हैं।
मंदार पर्वत के ऊपर जैन मंदिर में भगवान महावीर की पूजा अर्चना की। मंदार पर्वत पर सीता कुंड का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि यह मेरा सौभाग्य है कि मुझे यहां रोप-वे के उद‍्घाटन का मौका मिला। पहले भी मैं यहां पर आया हूं लेकिन नीचे से ऊपर आने में कई घंटे लगते थे। अब रोप-वे बन जाने से लोगों का आना जाना सुगम हो जायेगा।
उन्होंने कहा कि मंदार पर्वत के ऊपर से आसपास का पूरा इलाका बेहद खूबसूरत दिखता है। बेहद मनोरम दिखता है। यहां पर्यटन की असीम संभावनाएं हैं। सरकार इस दिशा में कार्रवाई कर रही है। मुख्यमंत्री ने मंदार पर्वत के निकट ही पापहारिणी सरोवर में बने लक्ष्मी नारायाण मंदिर में भी पूजा अर्चना की।
इस निरीक्षण के दौरान उन्होंने पाहारिणी सरोवर में फाउंटेन बनाने, सरोवर और मंदिर के साथ मंदार पर्वत के सौंदर्यीकरण, लाइट लगाने आदि का निर्देश दिया। उन्होंने गेस्ट हाउस के विस्तार का भी निर्देश दिया।

बाद में मीडिया से बात करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां पर्यटकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुये सभी तरह की व्यवस्था की जा रही है। पहले लोग यहां पहुंच भी नहीं पाते थे। अब रास्ते बेहद अच्छे हो गये हैं। सुगम हो गये हैं। ऐसे में पर्यटकों को यहां पहुंचने में, घूमने में कोई समस्या नहीं है।

 

Input: Live Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.