ऑटोवाले को 12 करोड़ की बंपर लॉटरी, कहा- बच्चों को अच्छी शिक्षा दूंगा, कर्ज चुकाउंगा

New Delhi : केरल के एर्नाकुलम जिले के 58 वर्षीय ऑटो-रिक्शा चालक को राज्य सरकार के 12 करोड़ रुपये की थिरुवोनम बम्पर लॉटरी का विजेता घोषित किया गया है। मारडू, कोच्चि के निवासी जयपालन पीआर को लॉटरी के प्रथम पुरस्कार विजेता के रूप में प्रमाणित किया गया, जब उन्होंने पास की बैंक शाखा में पुरस्कार विजेता टिकट का मूल जमा किया। टैक्स और एजेंसी कमीशन काटने के बाद उन्हें करीब 7.4 करोड़ रुपये की रकम मिलने की उम्मीद है।

जयपालन ने स्थानीय मीडिया को बताया कि उन्होंने मीनाक्षी लकी सेंटर से लॉटरी का टिकट खरीदा था। टिकट की कीमत 300 रुपये थी। उसने कहा कि वह नियमित रूप से लॉटरी टिकट खरीदता है और पहले भी 5,000 रुपये जीत चुका है।
रविवार दोपहर को, उन्होंने महसूस किया कि राज्य सरकार के दो मंत्रियों की देखरेख में तिरुवनंतपुरम में ड्रा के दौरान टीवी स्क्रीन पर उसी का टिकट नंबर चमका।

उन्होंने मीडिया को बताया- टेलीविजन पर अपना ही टिकट नंबर होने का एहसास होते ही मैंने अपने बेटे को टिकट के बारे में बताया लेकिन अपने दोस्तों या परिवार को इस खबर का खुलासा नहीं किया। सोमवार को उन्होंने अखबार में छपी खबर को क्रॉस चेक किया और सीधे बैंक जाकर टिकट जमा करा दिया।

यह पूछे जाने पर कि वह पुरस्कार राशि का क्या करेंगे, जयपालन ने एक चैनल से कहा- मेरे ऊपर कुछ कर्ज हैं जिन्हें मैं तुरंत चुकाना चाहता हूं। मेरे पास अदालत में दो दीवानी मामले भी चल रहे हैं जिन्हें मैं समाप्त करना चाहता हूं। मैं अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देना चाहता हूं। मेरी बहनों की आर्थिक मदद करना चाहता हूं।
उनकी मां ने चैनल को बताया- हम कर्ज में डूब रहे थे। अगर यह लॉटरी नहीं होती, तो मेरा बेटा इसका भुगतान नहीं कर पाता। मुझे लगता है कि भगवान ने मेरे आंसू देखे और हमारी मदद की।

लॉटरी में 12 करोड़ रुपये के जैकपॉट के अलावा छह विजेताओं के लिये 1 करोड़ रुपये, 12 विजेताओं के लिये 10 लाख रुपये, 12 विजेताओं के लिये 5 लाख रुपये और 108 विजेताओं के लिये 1 लाख रुपये का पुरस्कार भी था। पुरस्कार राशि की गणना एजेंसी और टिकट विक्रेता के लिये करों और कमीशन की कटौती के बाद की जाती है।

राज्य सरकार के लॉटरी विभाग ने कहा कि उसने इस साल थिरुवोनम बंपर लॉटरी के लिये 54 लाख टिकट छापे थे, जो सभी बिक गये। विभाग ने पिछले साल की तुलना में 10 लाख अधिक टिकट छापे थे। इस साल 126 करोड़ रुपये की बंपर बिक्री हुई।

input:daily bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.