“क्या तुम मेरे साथ जहर खाओगी”! इतना पूछ ईश्वर सिंह ने किया सुसाइड, सदमें में बेटी ने भी दी जान

शाजापुर से 3 किमी दूर सांपखेड़ा गांव में कर्ज और दोस्त से विवाद ने परेशान एक किसान और उसकी बेटी ने अपनी जान ले ली। किसान गुरुवार सुबह 5 बजे सोकर उठा और पत्नी से बोला कि मेरे साथ जहर खाएगी। पत्नी ने हां कहा तो किसान ने जहर खाया और एक पुडिया पलंग पर रखकर बाहर चला गया। वो घर से कुछ दूर जाकर बहस हो गया। इसकी जानकारी जब 16 साल की बेटी को हुई तो उसके पलंग पर रखी जहर की पुड़िया को खा लिया।

 

सांप खेड़ा गांव का है पूरा मामला

घटना शाजापुर से 3 किसी दूर सांपखेड़ा गांव की है। पुलिस ने बताया कि शाजापुर निवासी सुशील अग्रवाल की 4 बीघा जमीन ग्राम सांपखेड़ा में है। इस जमीन को लीज पर सांपखेड़ा के ईश्वर सिंह एवं गुड्डू खां ने सब्जी बोने के लिए ली थी। 4 महीने पहले दोनों ने सब्जी बोई और जब सब्जी की फसल तैयार हो गई तो गुड्डू खां ने ईश्वर सिंह के साथ धोखा किया। गुड्डू खां ने ईश्वर सिंह को खेत में आने से मना कर दिया। कहा जा रहा है कि ईश्वर सिंह इससे परेशान था।

गुड्डू खां ने ईश्वर को धोखा दिया! 

गुड्डू खां अकेले खेत से सब्जी तोड़कर बेचता था। इस वजह से ईश्वर सिंह और उनका परिवार कर्ज से परेशान था। । कर्ज से परेशान ईश्वर ने पूरे परिवार सहित जहर खाने का फैसला किया। पत्नी को जहर देकर वो चले गए। हालांकि कर्ज कितना था, यह अब तक पता नहीं चल पाया है। मिली जानकारी के मुताबिक मामला दर्ज कर लिया गया है। ईश्वर और उसकी बेटी की मौत हो गई

 

गौरतलब है कि जहर खाने के बाद ईश्वर सिंह घर से कुछ ही दूर गया था कि बेहोश होकर गिर पड़ा। वो बेसुध हालत में सरकारी स्कूल के पास गिरा था। जब तक परिजन वहां पहुंचते ईश्वर सिंह की मौत हो चुकी थी। मौत की खबर जैसे ही पत्नी और बेटी को मिली, वे सदमे में चली गई। पिता के सदमे में बेटी खुश्बू ने पलंग पर रखा जहर खा लिया। इसके बाद गांव के लोग खुशबू को पास के अस्पताल मे ले गए लेकिन डॅाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

Input: DTW24 NEWS

 

 

 

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.