रिटायर आर्मी जवानों को सरकारी नौकरी देगी बिहार सरकार, भूतपूर्व सैनिकों की 10 साल बाद होगी बहाली

PATNA : भूतपूर्व सैनिकों की 10 साल बाद होगी बहाली, बीएसएपी-16 में 794 पदों के मुकाबले महज 181 जवान ही बचे हैं, वर्ष 2011 के बाद नहीं हुई है इस बटालियन में एक भी बहाली, 40 की जगह 45 वर्ष अधिकतम उम्र सीमा

बिहार पुलिस में 10 साल बाद भूतपूर्व सैनिकों की बहाली होगी। भूतपूर्व सैनिकों के लिए बनाई गई बिहार विशेष सशस्त्रत्त् पुलिस-16 में रिक्तियों को भरने की कवायद शुरू हो गई है। पुलिस मुख्यालय के बाद गृह विभाग के स्तर से भी काम पूरा हो गया है। जल्द ही बहाली की मंजूरी के लिए कैबिनेट को प्रस्ताव भेजा जाएगा।

भूतपूर्व सैनिकों को पुलिस में बहाल करने के लिए वर्ष 1982 में तत्कालीन बिहार सैन्य पुलिस (बीएमपी) में विशेष बटालियन का गठन किया गया था। इसका मुख्यालय पटना के फुलवारीशरीफ में है। आज इस बटालियन को बिहार विशेष सशस्त्रत्त् पुलिस-16 के नाम से जाना जाता है। इस बटालियन में सिपाही के पद पर सिर्फ भूतपूर्व सैनिकों की ही बहाली होती है।

 

बिहार विशेष सशस्त्रत्त् पुलिस (बीएसएपी)-16 में सिपाही के 794 पद हैं। इसके मुकाबले अभी 181 जवान ही रह गए हैं। इस बटालियन में भूतपूर्व सैनिक की सिपाही के पद पर बहाली आखिरी बार वर्ष 2011 में हुई थी। 10 सालों से बहाली नहीं होने के चलते रिक्तियां बढ़ती गई और आज की तारीख में 613 पद खाली हैं। इस बटालियन में कभी छह कंपनियां होती थी पर रिक्तियों के बढ़ने के बाद यहां मात्र दो कंपनी रह गई है।

 

सशस्त्रत्त् पुलिस से जुड़े एक आला अधिकारी के मुताबिक बीएसएपी-16 में भूतपूर्व सैनिकों को सिपाही के पद पर बहाल करने के लिए अधिकतम उम्र सीमा 40 वर्ष निर्धारित है। इसे बढ़ाने का भी प्रस्ताव दिया गया है। सरकार की मंजूरी मिलने के बाद भूतपूर्व सैनिक 40 की जगह 45 वर्ष तक इस बटालियन में सिपाही के पद पर बहाल हो सकेंगे। इसके अलावा बहाली हेतु तय शारीरिक दक्षता के मापदंडों को भी हल्का किया जाएगा। माना जा रहा है कि इस बदलाव की मंजूरी मिलने के बाद भूतपूर्व सैनिकों की बीएसएपी में बहाली के लिए विज्ञापन जारी किया जाएगा।

input:daily bihar

 

 

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.