मोदी सरकार का बड़ा फैसला, डोर-टू-डोर वैक्सीनेशन की अनुमति; नई गाइडलाइंस जारी

नई दिल्ली, एजेंसी।  देश में कोरोना के नए मामलों में लगातार गिरावट आ रही है। टीकाकरण का आंकड़ा भी 83 करोड़ के पार हो गया है। इस बीच केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए घर-घर (डोर-टू-डोर) टीकाकरण की अनुमति दे दी है। इसके लिए एडवाइजरी भी जारी कर दी गई है। नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस में इसकी जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि हम उन लोगों के लिए घर पर टीकाकरण शुरू कर रहे हैं, जो कोविड सेंटर पर जाने में सक्षम नहीं हैं। इसके लिए एडवाइजरी जारी की गई है। आदेश में कहा गया है कि वैक्सीनेशन सेंटर पर जाने में अक्षम लोगों को टीका लगाना सुनिश्चित किया जाए। सभी राज्य और केंद्रशासित राज्य इसके लिए खास व्यवस्था करें।

 

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि कुछ राज्यों में वैक्सीनेशन पर जबरदस्त काम हुआ है। इस वजह से 18 साल से अधिक उम्र के 66 फीसद लोगों को कोरोना का कम से कम एक डोज लग चुका है। 23 फीसद को दोनों डोज लग गए हैं।

 

6 राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों ने अपनी 100 फीसद आबादी को पहला डोज लगा दिया है। इनमें लक्षद्वीप, चंडीगढ़, गोवा, हिमाचल प्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और सिक्किम शामिल हैं। 4 राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों में 90 फीसद से ज्यादा आबादी को पहला डोज लगाया गया है। इनमें दादरा और नगर हवेली, केरल, लद्दाख और उत्तराखंड हैं।

input: daily bihar

 

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.