बिहार में बन राज्य का पहला संयुक्त रिवर-जंगल सफारी, जानिए- कहाँ बन रहा, कितना होगा टिकट शुल्कऔर कब होगा उद्घाटन

बिहार सरकार का पूरा ध्यान राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने पर है इसी कड़ी में जुलाई महीने से दुर्गावती जलाशय पर काम शुरू हो रहा है। यह बिहार का ऐसा पहला सफारी होगा जहां नदी और जंगल दोनों के लुत्फ साथ ही उठाए जा सकते हैं।

जलाशय के दाएं किनारे मौजूद रोहतास और बाएं किनारे कैमूर का इलाका तैयार किया गया। बता दें कि पॉइंट से रिवर सफारी की 25 सीटर वाली बोट निकलेगी जो नदी के भीतर गुप्ता धाम की तरफ 6 किलोमीटर तक सैलानियों को भ्रमण करवाएगी।

प्रतीकात्मक चित्र

यहां उतरने के बाद सैलानी वन क्षेत्र में घूमते हुए शानदार अनुभव प्राप्त करेंगे। उसके बाद वहां से वापस लौटेंगे। डीएफओ प्रदुम्न गौरव बताते हैं कि जुलाई के शुरुआती सप्ताह से ही यह शुरू हो रहा है, इसकी तमाम तैयारियां पूरी की जा चुकी है। उद्घाटन के लिए जिस तारीख को फिक्स किया गया है उसी दिन विधिवत तरीके से इसका शुभारंभ किया जाएगा।

सैलानियों को जंगल सफारी का 4 किलोमीटर और जलाशय में 6 किलोमीटर तक रिवर सफारी का लुफ्त उठा सकेंगे। सुरक्षा के लिहाज से पर्यटकों की जिम्मेवारी रेंज ऑफिसर को सौंपी जाएगी। 25 सीटर डबल हल्क नाव से पर्यटक को मजा लेने के लिए महज 50 रुपए ही देना होगा। छह किलोमीटर गुप्ता धाम के अंदर तक 25 सीटर वाली नाव पर्यटकों को लेकर जाएगी। यहां उतरने के बाद वन्य क्षेत्र में सैलानी घूमने का लुत्फ उठा सकेंगे। एक विशेष वोट 12 सीट वाली रिजर्व के तौर पर रखी रहेगी।

 

 

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.