बिहार सरकार ने जारी किया 2022 का सरकारी कैलेंडर, दुर्गा पूजा-दिवाली पर सबसे अधिक अवकाश

कैबिनेट की मंजूरी के बाद राज्य सरकार ने साल 2022 के लिए अवकाश कैलेंडर जारी कर दिया है। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी कैलेंडर के मुताबिक इस दफे सचिवालयकर्मियों को दुर्गा पूजा के अवसर पर सबसे लम्बी छुट्टी मिलेगी। अगले वर्ष दुर्गा पूजा की छुट्टी रविवार (सप्तमी) से शुरू होगी और दशहरा (बुधवार) तक अवकाश रहेगा।सचिवालय में पहले की तरह सप्ताह में पांच दिन ही काम होंगे। ऐसे में शनिवार को अवकाश रहेगा, जिसके चलते दुर्गा पूजा सचिवालय लगातार पांच दिन बंद होगा। हालांकि क्षेत्रीय कार्यालय के अधिकारियों-कर्मचारियों को सप्तमी का अवकाश रविवार को पड़ने के चलते दुर्गा पूजा पर तीन दिन ही छट्टी मिल पाएगी। राज्य सरकार ने पहले की तरह सचिवालय में पांच और क्षेत्रीय कार्यालयों में छह दिवसीय कार्यप्रणाली को लागू रखा है। राज्य सरकार द्वारा घोषित अवकाश कैलेंडर के मुताबिक वर्ष 2022 में कार्यपालक आदेश के तहत राज्य सरकार के अधीन सभी कार्यालय और राजस्व दंडाधिकारी न्यायालय के लिए 15 अवकाश की घोषणा की गई है।

 

इनमें तीन अवकाश रविवार को पड़ेंगे। गुरु गोविंद सिंह जयंती, दुर्गा पूजा (सप्तमी) और हजरत मोहम्मद साहब का जन्म दिन रविवार को पड़ रहा है। वहीं एनआईए एक्ट के तहत घोषित अवकाशों की सूची में रामनवमी (10 अप्रैल), मई दिवस (1 मई), बकरीद (10 जुलाई), गांधी जयंती (2 अक्टूबर), छठ पूजा पर दो दिनों के अवकाश में एक दिन (30 अक्टूबर) और क्रिसमस (25 दिसम्बर) रविवार को है।होली-दीपावली पर भी रहेगी मौज

 

होली की छुट्टी अगले वर्ष शुक्रवार और शनिवार (18-19 मार्च) को है। अवकाश के अगले दिन रविवार है। इसे जोड़ दिया जाए तो होली पर सचिवालय और क्षेत्रीय कार्यालय लगातार तीन दिन बंद रहेंगे। अगले वर्ष स्वतंत्रता दिवस सोमवार को पड़ रहा है। ऐसे में सचिवालय में लगातार तीन दिन और क्षेत्रीय कार्यालयों में दो दिनों की छुट्टी रहेगी। दीपावली पर भी छुट्टी लम्बी होगी। अगले वर्ष दीपावली 24 अक्टूबर (सोमवार) को है।

 

ज्यादतर ऐच्छिक अवकाश शनिवार, सोमवार व शुक्रवार को : वर्ष 2022 में ऐच्छिक या प्रतिबंधित अवकाश के लिए 20 दिन तय हैं। इनमें 7 शनिवार, जबकि शुक्रवार और सोमवार 4-4 है। अधिकतम 3 ऐच्छिक या प्रतिबंधित अवकाश का उपभोग पूर्वानुमति से किया जा सकता है। क्षेत्रीय कार्यालय के कर्मी यदि शनिवार या सोमवार को इसका उपभोग करते हैं तो उन्हें ज्यादा अवकाश का लाभ होगा।वहीं सचिवालय कर्मी शुक्रवार या सोमवार को अवकाश लेते हैं तो उन्हें लगातार तीन दिन छुट्टी मिल जाएगी।

 

महत्वपूर्ण पर्व-त्योहार अवकाश दिन

 

वसंत पंचमी 5 फरवरी शनिवार

 

महाशिवरात्रि 1 मार्च मंगलवार

 

होली 18-19 मार्च शुक्रवार-शनिवार

 

शब-ए-बरात 19 मार्च शनिवार

 

रामनवमी 10 अप्रैल रविवार

 

इदुल-फितर 3 मई मंगलवार

 

बुद्ध पूर्णिमा 16 मई सोमवार

 

बकरीद 10 जुलाई रविवार

 

मोहर्रम 9 अगस्त मंगलवार

 

कृष्ण जन्माष्टमी 19 अगस्त शुक्रवार

 

चेहल्लुम 17 सितम्बर शनिवार

 

दुर्गा पूजा 2-5 अक्टूबर रविवार-बुधवार

 

मोहम्मद साहब की जयंती 9 अक्टूबर रविवार

 

दीपावली 24 अक्टूबर सोमवार

 

चित्रगुप्त पूजा 27 अक्टूबर गुरुवार

 

छठ पूजा 30-31 अक्टूबर रविवार-सोमवार

input:daily bihar

 

 

 

 

 

 

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.