पंचायत चुनाव के बीच भारी बवाल, मुखिया के समर्थकों ने पुलिस की काटी नाक, जमादार को पटक-पटककर पीटा

बीजेपी सांसद ने कहा, “आज सबने देखा कि क्या घटना हुई. यहीं हिंसा की घटना होती है क्योंकि यहां की सीएम बिना विधायक बने सीएम बनी हुई हैं. 20-25 गुंडो ने हम पर हमला किया और कार्यकर्ताओं को जमीन पर पटक पटक मारा. चुनाव घोषणा होते ही हम जब से चुनाव प्रचार में गए हैं हमारे कार्यकर्ताओं पर हमले हो रहे हैं. हम आज एक बस्ती में घर-घर जाकर प्रचार कर रहे थे, प्रचार पूरा हुआ तो हमारे ऊपर हमला हुआ.”

टीएमसी से साधा निशाना

 

दिलीष घोष के सुरक्षाकर्मियों की तरफ से पिस्तौल निकालने पर टीएमसी ने निशाना साधा है. टीएमसी ने कहा, “दिन के उजाले में जनता की तरफ बंदूक दिखाने की हिम्मत कैसे हुई? क्या लोगों को उन नेताओं के खिलाफ विरोध करने का अधिकार नहीं है जिनका वे समर्थन नहीं करते? मानवाधिकारों का ऐसा घोर उल्लंघन शर्मनाक है! यह भवानीपुर में लोगों की सुरक्षा और सुरक्षा से समझौता करता है!”

बिहार में पंचायत चुनाव को लेकर दूसरे चरण का प्रचार अभियान सोमवार को समाप्त हो गया. 29 सितंबर को दूसरे चरण में चुनाव होना है. इस बीच बेतिया से एक घटना सामने आई.

 

बेतिया में दो मुखिया के उम्मीदवार आपस में भिड़ गए और इस दौरान बीच-बचाव करने पहुंची पुलिस की उन्होंने जमकर पिटाई कर दी. मुखिया उम्मीदवार के समर्थकों ने जमादार की नाक काट दी और उसका सिर भी फाड़ दिया. एसपी बेतिया एसपी ने कहा कि दोषियों के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जायेगा.

 

घटना पश्चिम चंपारण जिले के बेतिया की है. यहां दो मुखिया उम्मीदवारों के समर्थकों के बीच मारपीट हो गई. चुनाव प्रचार के दौरान मुखिया पद के दो उम्मीदवारों के समर्थकों के आपस मे भिड़ जाने की खबर मिलते ही स्थानीय थाना की टीम मौके पर पहुंची. इस दौरान भावी मुखिया के समर्थकों ने पुलिस पर भी हमला शुरू कर दिया, जिसमें एक एएसआई गंभीर रूप से घायल हो गया. घायल एएसआई को इलाज कराने के लिए जीएमसीएच में भर्ती कराया गया है. इस मामले में बेतिया एसपी ने कहा कि दोनों पक्ष पर केस दर्ज किया गया है. मामले में जो भी दोषी होंगे, उनपर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

इस घटना के बाबत जानकारी मिली है कि बेतिया के चनपटिया प्रखंड के तुनिया विशुनपुर पंचायत के छोटा तुनिया गांव में दो मुखिया प्रत्याशी चुनाव प्रचार कर रहे थे. इसी बीच दोनों प्रत्याशियों के समर्थक आपस में भीड़ गए, जिसकी सूचना स्थानीय लोगों द्वारा मनुआपुल थाना को दी गई. सूचना मिलते ही मनुआपुल थाना के जमादार रामबाबू चौधरी दलबल के साथ मौके पर पहुंचे. इसी बीच भीड़ में से किसी ने बांस से जमादार पर हमला कर दिया, जिसमें जमादार का सिर फाड़ दिया और उसकी नाक काट दी.

input:DTW 24 NEWS

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.