बिहार में 20 अक्टूबर से मोबाइल नंबर, माइक्रोचिप, क्यूआर कोड से लैस होगा ड्राइविंग लाइसेंस

परिवहन विभाग राज्य भर में गाड़ी रजिस्ट्रेशन और ड्राइविंग लाइसेंस के कार्ड में बदलाव करने जा रहा है। 20 अक्टूबर के बाद आरसी और डीएल के फॉर्मेट में बदलाव होगा। लोगों को नये फॉर्मेट में आरसी और डीएल कार्ड मिलेगा। प्रदेश के सभी डीटीओ को पूरे देश में एक आरसी और डीएल कार्ड लागू करने का आदेश जारी कर दिया गया है। पुराने कार्ड की वैद्यता खत्म होने के बाद नये फॉर्मेट में आरसी और डीएल लोगों को दिये जायेंगे। आरसी और डीएल के नये फॉर्मेट में गार्जियन का मोबाइल नंबर जोड़ा गया है। यह माइक्रोचिप और क्यूआर कोड से लैस होगा। इसके बाद कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ना भी आसान हो गया है। अगर आप आधार को ड्राइविंग लाइसेंस से लिंक करने की सोच रहे हैं तो हम आपको बता रहे हैं कि इसे लिंक करना बेहद आसान है।

आधार कार्ड का उपयोग कई अलग-अलग उद्देश्यों के लिये किया जाता है, जिसमें बैंक खाता खोलना, स्कूल में प्रवेश लेना, घर खरीदना और बहुत सुविधाएं शामिल हैं। आधार हमारे जीवन का एक आवश्यक दस्तावेज बन गया है। यदि आप इसे अभी लिंक करते हैं तो इसे लिंक करना बहुत आसान है।
फर्जी लाइसेंस बनाने पर रोक लगाने के लिये सरकार ने ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से जोड़ना शुरू कर दिया है। आप भी अपनी सुरक्षा को देखते हुये आप यह कदम उठा सकते हैं और दोनों को एक साथ जोड़ सकते हैं। यहां हम आपको बता रहे हैं कि आप अपने ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से कैसे लिंक कर सकते हैं।
अगर आधार कार्ड को ड्राइविंग लाइसेंस से लिंक करने के फायदों की बात करें तो इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि इससे डुप्लीकेशन खत्म हो जायेगा। यानी फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस नहीं बनेंगे और दुर्घटना या किसी आपात स्थिति में पहचान करना आसान होगा। आधार को ड्राइविंग लाइसेंस से जोड़ने पर लोगों को जुर्माने से निजात नहीं मिलेगी।
ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से लिंक करने की प्रक्रिया— ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से लिंक करने के लिये सबसे पहले आपको वेबसाइट sarathi.parivahan.gov पर जाना होगा। इसके बाद आपको उस राज्य का चयन करना होगा जिसका ड्राइविंग लाइसेंस यहां है।
इसके बाद एक नई विंडो खुलेगी। नई विंडो के दाईं ओर स्थित मेनू बार में ऑनलाइन आवेदन करें पर क्लिक करें। फिर ड्राइविंग लाइसेंस (नवीनीकरण/डुप्लिकेट/एडल/अन्य) पर क्लिक करें। फिर एक और नई विंडो खुलेगी, जिसमें आपको फिर से राज्य का चयन करना होगा। जब स्टेट सेलेक्ट हो जाये तो कंटिन्यू बटन पर क्लिक करें। फिर आपको आधार कार्ड से जुड़ी जानकारी दर्ज करनी होगी।
अंत में Proceed पर क्लिक करें। यहां ड्राइविंग लाइसेंस की पूरी जानकारी दिखाई देगी, जिसके नीचे मोबाइल नंबर और आधार कार्ड का विकल्प दिखाई देगा। यहां आधार नंबर और ओटीपी डालना होगा, जिसके बाद ड्राइविंग लाइसेंस अपडेट हो जायेगा।

 

Input: Live Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.