तेजस्वी ने महिलाओं में बांटे पांच सौ के नोट, जदयू बोला- गरीबी का मजाक बनाया, धिक्कार है बबुआ

राष्ट्रीय जनता दल के नेता और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है। वे हाईवे पर रास्ते में रुक कर महिलाओं को पांच-पांच सौ के नोट बांट रहे हैं। अब इस वीडियो पर बवाल शुरू हो गया है। जहां समर्थकों को इसमें मानवता और दयालु स्वभाव झलक रहा है वहीं जनता दल यूनाइटेड ने उनके इस कृत्य को गरीबी का मजाक करार दिया है। जदयू के प्रवक्ता नीरज कुमार ने तो इसके लिये तेजस्वी को धिक्कारा भी है। दरअसल राजद नेता तेजस्वी यादव गुरुवार को गोपालगंज के दौरे पर थे। रास्ते भर समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया। उसने रास्ते में कुछ महिलाओं को पांच-पांच सौ रुपये के नोट बांटे, इसका वीडियो खूब देखा जा रहा है। इस वीडियो को राजद ने अपने आधिकारिक पेज पर भी पोस्ट किया है।

इसके बाद जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने भी इस वीडियो को पोस्ट करते हुये उनको धिक्कारा है। वीडियो में साफ पता चल रहा है कि ग्रामीण महिलाएं तेजस्वी यादव को पहचान नहीं पा रही हैं। ऐसे में तेजस्वी का कोई सहयोगी पीछे से कहता है, अरे ये हैं लालूजी के बेटे, तेजस्वी। दो बार इसी लाइन को दोहराया जाता है। वीडियो पर अब जदयू ‘शर्म करो बबुआ’ कह रहा है तो राजद का कहना है कि तेजस्वी यादव बाढ़ पीड़ितों की मदद कर रहे थे।
जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने दो अलग अलग ट‍्वीट किया है। पहले ट‍्वीट में कहा है- कोई जानता नहीं-पहचानता नहीं, कौन है ये राजकुमार जिसने आंचल में रुपया गिराया है, घमंड का खुमार इस कुमार पर इतना छाया, अमीरी-गरीबी का फ़र्क़ बताया, कोई पीछे से लालू का लाल है बताता, भूत के वर्तमान का हाल दिखाता, जाओ बबुआ अपनी पहचान बनाओ, आर्थिक लुटेरे होने का दाग़ मिटाओ।
इसके बाद दूसरे ट‍्वीट में उन्होंने लिखा- पीछे से कोई कहता है, कि ये लाल उन्हीं का है…. जिन्होंने लिखवा ली थी उनकी ज़मीन, बदले उसके चंद नोट के टुकड़े, आँचल में सबके डाल आया था… लालू के लाल से पूछो गरीबी का माखौल क्यों उड़ाया… वोट को नोट क्यों दिखलाया, इंसानों की मज़बूरी का कुछ तो लिहाज़ कर लो…शर्म करलो बबुआ।

 

इधर राजद प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने कहा कि बाढ़ पीड़ित जब तेजस्वी यादव के पास मदद के लिए आए तो तेजस्वी यादव ने उनकी मदद की. उसमें गलत क्या है? हालांकि उन वीडियो पर आ रहे तरह तरह के कॉमेन्ट से यह बात तो साफ है कि लोगों को भी यूं नोट बांटना पसंद नहीं आता है।

 

 

In[put; Live Bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.