बिहार को विशेष दर्जा के मुद्दे पर NDA दो-फाड़, CM नीतीश के स्‍टैंड से असहमत मांझी बोले- PM मोदी से करिए बात

पटना, आनलाइन डेस्‍क। नीतीश कुमार की सरकार (Nitish Kumar Government) ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा (Special Status to Bihar) देने की अपनी मांग को छोड़ने की घोषणा कर दी है। इसका सत्‍ताधारी राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) में शामिल भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने स्‍वागत किया है तो एनडीए के हीं दूसरे घटक दल हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा (HAM) ने माेर्चा खोलने की घोषणा कर दी है। ‘हम’ के अध्‍यक्ष जीतनराम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने इस मुद्दे पर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की नीति का विरोध करते हुए पुनर्विचार का आग्रह किया है। यह भी कहा है कि स्‍पष्‍ट कहा है कि उनकी पार्टी बिहार को विशेष राज्‍य का दर्जा दिलाने के लिए संघर्ष करती रहेगी। मांझी ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) से मिलकर बात करने को भी कहा है।

विशेष राज्‍य के दर्जे के लिए जारी रहेगा ‘हम’ का संघर्ष

जीतनराम मांझी ने कहा है कि जेडीयू भले हीं बिहार को विशेष राज्‍य का दर्जा देने की मांग छोड़ रही है, लेकिन वे इसके लिए संघर्ष करते रहेंगे। पार्टी के प्रवक्ता डा. दानिश रिजवान के हवाले से उन्‍होंने कहा है कि विशेष राज्य की मांग से जिसे पीछे हटना है हटे, उनका संघर्ष जारी रहेगा। उन्‍होंने कहा है कि विशेष राज्‍य की मांग सदन से पारित मुद्दा है, जिससे वे पीछे नहीं हट सकते। हालांकि, उन्‍होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस मुद्दे पर शिष्टमंडल बनाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने की अपील भी की है।

बिहार सरकार के मंत्री ने क्‍या कहा था, जानिए

 

विदित हो कि बिहार सरकार में मंत्री बिजेंद्र यादव ने कहा है कि नीतीश सरकार अब विशेष राज्‍य के दर्जे की मांग छोड़ रही है, क्‍योंकि यह मांग करते-करते वह थक चुकी है।

input:जागरण

 

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.