कैबिनेट बैठक में CM नीतीश का फैसला- बिहार में सस्ता होगा बालू, 8 जिलों में बालू खनन आज से शुरू

राज्य के 8 जिलों में जुलाई से बंद बालू खनन आज से शुरू हो जाएगा : राज्य में बालू उपलब्धता की समस्या अब खत्म होगी। सरकार ने एन जीटी की रोक खत्म होने के बाद राज्य में आज से बालू का खनन फिर से शुरू करने की अनुमति दे दी है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में यह निर्णय लिया गया। अब नवादा, अरवल, बांका, बेतिया, मधेपुरा, किशनगंज, वैशाली और बक्सर में जुलाई से बंद बालू खनन आज से शुरू होगा।

सरकार ने पुराने बंदोबस्तधारी को ही बंदोबस्ती की राशि पर 50 फीसदी वृद्धि के साथ 31 मार्च 2022 तक के लिए अवधि विस्तार दे दिया है। जबकि पटना, भोजपुर, सारण, रोहतास, औरंगाबाद, गया, जमुई और लखीसराय के लिए बंदोबस्तधारी खोजने की जिम्मेदारी खनन निगम को दी गई है। पिछले साल तक राज्य के 14 जिलों में ही बालू का खनन हो रहा था। इन सभी जिलों में बंदोबस्तधारियों को 30 सितंबर तक बालू खनन की अनुमति थी।

इनमें पांच जिलों पटना, भोजपुर, सारण, रोहतास और औरंगाबाद में नदी घाटों के बंदोबस्तधारियों ने एक मई से ही बालू का खनन बंद कर दिया था। जबकि, गया में बंदोबस्तधारी ने जनवरी में ही बालू का खनन बंद कर दिया था। इसके पहले जमुई और लखीसराय में भी खनन बंद था। इन आठ जिलों पटना, भोजपुर, सारण, रोहतास, औरंगाबाद, गया, जमुई और लखीसराय में भी खनन की प्रक्रिया शुरू होनी है। शुक्रवार को कैबिनेट ने 18 प्रस्तावों पर अपनी सहमति दी है।

input:daily bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.