मोदी सरकार के खिलाफ आंदोलन कर ​रहे किसानों को सुप्रीम कोर्ट का झटका, कहा- NH जाम नहीं कर सकते

PATNA ; किसानों ने प्रदर्शन से शहर का दम घोटा:कोर्ट = कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों पर सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को तल्ख टिप्पणियां कीं। कोर्ट ने कहा कि आपने पूरे शहर का दम घोट दिया है और अब शहर के अंदर आना चाहते हैं। क्या आसपास के निवासी आपके विरोध से खुश हैं। हमें लगता है कि यह धंधा अब रुकना चाहिए।

विरोध जारी क्यों: जस्टिस एएम खानविलकर की पीठ ने यह सवाल एक किसान समूह किसान महापंचायत से किया। इसमें जंतर-मंतर पर ‘सत्याग्रह’ करने के लिए अनुमति देने के लिए रिट याचिका दायर की है। कोर्ट ने पूछा यदि किसान संगठनों ने पहले ही अदालत में कृषि कानूनों को चुनौती दे दी है तो इस धरने-प्रदर्शन का कोई मतलब नहीं है।

सुरक्षाबलों को रोक रहे: पीठ ने कहा कि हमने मीडिया में देखा है कि आप सैन्यकर्मियों और सुरक्षा बलों का आवागमन रोक रहे हैं। यह सब बंद होना चाहिए। यह कतई उचित नहीं है।

पुलिस ने रोक रखी हैैं सड़कें: याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि दिल्ली-एनसीआर में सड़कें अवरुद्ध कर रहे लोगों के साथ महापंचायत नहीं है। सड़कें किसानों ने नहीं पुलिस ने रोक रखी हैं। इस पर कोर्ट ने कहा कि ठीक है। आप इस बार में शपथपत्र दाखिल कीजिए और बताइये कि आप सड़क अवरुद्ध करने वाले समूहों का हिस्सा नहीं हैं

input:daily bihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.