सीएम नीतीश के जिले नालंदा में बाढ़ पीड़ितों का फूटा गुस्सा, नेशनल हाईवे किया जाम

चार दिनों से हो रही लगातार बारिश के कारण सीएम नीतीश के जिले नालंदा में स्थिति बदतर हो गई है। घरों में पानी घुस गया है और लोग उसी पानी के बीच रहने को मजबूर हैं। कई सड़कों और गलियों में जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो गयी है। रविवार को मोगलकुआं और बसारबिगहा के मोहल्लेवासियों ने जलनिकासी की समस्या को लेकर जलालपुर मोहल्ला के समीप एनएच 20 को जाम कर दिया। इससे दोनों ओर गाड़ियों की लंबी कतारें लग गयीं। मौके पर पहुंचे बीडीओ अंजन दत्ता, सीओ धर्मेंद्र पंडित, थानाध्यक्ष सुरेश प्रसाद ने मोहल्लेवासियों को जलनिकासी की समस्या के निदान का आश्वासन देकर किसी तरह शांत किया। नगर निगम से जेसीबी बुलाकर सफाई कार्य प्रारंभ होने पर लोग मानें।

यहां की स्थिति का इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार की दोपहर नालंदा पहुंचे थे। इस दौरान सीएम जलजमाव वाले इलाकों में पैदल जाकर जायजा लिया। इस दौरान उन्हें मिट्टी भरे बोरे से बनी पगडंडी से चलकर पार करना पड़ा।मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से राहत पर बात की और आवश्यक निर्देश भी दिये। झारखंड में अधिक बारिश होने से जिले की तीन नदियां जिराइन, सकरी और पंचाने उफना गयी हैं।

इसके कारण तीन दर्जन से अधिक गांव प्रभावित हैं। बिहारशरीफ, कतरीसराय, गिरियक और अस्थावां प्रखंडों के बाद रहुई व बिंद प्रखंड भी बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। 550 हेक्टेयर से ज्याफ खेतों में लगी धान, मक्के और सब्जी की फसलें डूब गई हैं। बिहारशरीफ को कतरीसराय से जोड़ने वाली सड़क का डायवर्सन मानपुर के पास टूट गया है। जिला मुख्यालय हारशरीफ के निचले इलाकों में पंचाने का पानी फैल गया है। जिला प्रशासन द्वारा राहत कार्य चलाया जा रहा है।

 

Input: DTW News

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.