महावीर मंदिर की नैवेद्मम का, अब भारत ही नही बल्कि केन्या में भी लगा सकेंगे भोग

पटना : अगर आप राजधानी पटना स्थित महावीर मंदिर जाते हैं तो, हनुमान जी के दर्शन के साथ साथ वहां का प्रसिद्ध प्रसाद नैवेद्मम जरूर लेते हैं. नैवेद्यम लड्डू पूरे बिहार में प्रसिद्ध है. लेकिन नैवेद्यम का भोग अब आप विदेशों में भी लगा सकेंगे. महावीर मंदिर के नैवेद्मम प्रभारी केन्या के वेंकटेश्वर मंदिर में प्रसाद बनाएंगे. इस बात की जानकारी पटना के महावीर मंदिर के तरफ से दी गई है. दरअसल तिरुपति बालाजी जैसा ही नैरोबी का श्री कल्याण वेंकटेश्वर मंदिर भी है, जो केन्या में बेहद चर्चित है और हिंदुओं के लिए आस्था का बड़ा केंद्र है.

इस मंदिर और पटना के महावीर मंदिर के बीच ये तय हुआ है कि प्रसिद्ध नैवेद्मम बनाने वाली टीम के प्रमुख आर शेषाद्री केन्या की राजधानी नैरोबी के श्री कल्याण वेंकटेश्वर मंदिर में नैवेद्मम और अन्य भोग बनाएंगे. जानकारी हो कि तिरुपति बालाजी की तर्ज पर स्थापित इस मंदिर में तिरुपति की तरह ही शारदीय नवरात्रि के अवसर पर वेंकटेश्वर नाव रात्रि ब्रह्मोत्सव आयोजित होता है. मंदिर प्रबंधन ने महावीर मंदिर न्यास के सचिव आचार्य किशोर कुणाल से पत्राचार द्वारा शेषाद्री को नैरोबी भेजने का अनुरोध किया था और उसके बाद शेषाद्री शनिवार को रवाना भी हो गए. किशोर कुणाल ने बताया कि श्री कल्याण वेंकटेश्वर मंदिर के संचालन समिति के अध्यक्ष डॉक्टर पी वी संबाशिव राव ने पत्र भेजकर अनुरोध किया था.

इस पत्र में मंदिर ट्रस्ट के ट्रस्टियों की ओर से मंदिर में आयोजित हो रहे ब्रह्मोत्सव के दौरान नैवेद्मम और प्रसाद बनाने के लिए शेषाद्री की सेवाएं लेने का अनुरोध किया गया था. वेंकटेश्वर मंदिर शेषाद्री के आने जाने से लेकर ठहरने का सारा प्रबंध करेगा. मंदिर में ब्रह्मोत्सव 6 से 16 अक्टूबर तक आयोजित किया जाएगा. इसके साथ ही खबर है कि तिरुपति बालाजी मंदिर से अलंकार और वेद पाठ के लिए 2-2 यानी चार लोगों को नैरोबी आमंत्रित किया गया है।

 

Input: DTW 24 News

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.